जे.पी. नड्डा का आरजेडी पर हमला, कहा- शहाबुद्दीन को संरक्षण देने वाले आज विकास का नक्शा लाएं हैं

काराकाट:  भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा (J. P. Nadda) ने बिहार की जनता से बड़े-बड़े वादों एवं गलतफहमी से बचने की अपील करते हुए बृहस्पतिवार को कहा कि विपक्षी राष्ट्रीय जनता दल (Rashtriya Janta Dal) (राजद) वाले विकास का नया नक्शा लेकर आए हैं, लेकिन इसी दल के शासन में अपराधियों को संरक्षण मिलता था । काराकाट में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए ने कहा नड्डा ने कहा, ‘‘अगर उजाले की इज्जत करनी है, तो अंधेरे की कठिनाई को पहचानना होता है। विकास करना है तो विकास के विरोधियों को भी पहचानना जरूरी है।”

काम करने वाले प्रत्याशी और पार्टी को वोट दें 

नड्डा ने कहा कि,” चुनाव में बड़े-बड़े वादे करके लोगों को लुभाया जाता है, कई बार तो जनता पशोपेश में पड़ जाती है कि वोट किसे दें। उन्होंने कहा कि कभी भी वोट इस आधार पर मत दीजिए कि वो प्रत्याशी और उसकी पार्टी आगे चलकर क्या करेगी। वोट इस आधार पर देना चाहिए कि प्रत्याशी ने और उसकी पार्टी ने अब तक क्या किया है।

राजद को मोदी ने विकास का मतलब समझया 

लोगों से गलफहमी से बचने की अपील करते हुए भाजपा अध्यक्ष ने कहा, ‘‘ आज राजद वाले विकास का नया नक्शा लेकर आ रहे हैं। उन्हें प्रधानमंत्री को धन्यवाद देना चाहिए, क्योंकि मोदी जी ने उन्हें भी विकास का अर्थ सिखा दिया है।” उन्होंने लोगों को चेताया कि राजद वही दल है जिसके राज में शहाबुद्दीन को राजनीतिक संरक्षण मिलता रहा और नीतीश कुमार की जब सरकार आई तब शहाबुद्दीन को जेल भेजा गया ।

लालू प्रसाद की पार्टी राजद के शासनकाल की याद दिलाते हुए भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि वो दिन याद हैं जब पटना के डाक बंगला चौराहे पर शाम सात बजे के बाद खड़े नहीं हो सकते थे । उन्होंने राजद के शासन के दौरान कानून व्यवस्था की खराब स्थिति और कारोबारियों के प्रदेश छोड़कर जाने का भी जिक्र किया।

मोदीजी ने यह ‘संस्कृति’ बदली

नड्डा ने कहा कि,” जाति, मजहब और वोटबैंक की राजनीति देश की संस्कृति बनी हुई थी। मोदीजी ने यह ‘संस्कृति’ बदल दी है। बिहार चुनाव में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) को जनादेश देने की अपील करते हुए नड्डा ने कहा कि देश नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में आगे बढ़ रहा है और बिहार को नीतीश कुमार ने आगे बढ़ाने का काम किया है।”

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बिहार के लिए 1 लाख 25 हजार करोड़ रुपये की घोषणा 2015 में की थी और वह इसका लेखाजोखा लेकर आए हैं । बिहार के पैकेज के खर्च का ब्यौरा देते हुए भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि 1 लाख 25 हजार करोड़ रुपये तो खर्च किए ही गए हैं, साथ ही नरेंद्र मोदी ने 40 हजार करोड़ रुपये और भी बिहार के विकास के लिए दिए हैं।

नड्डा ने अपने संबोधन के दौरान जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को समाप्त करने, राम मंदिर के निर्माण शुरू होने और एक बार में तीन तलाक को समाप्त करने का भी जिक्र किया । उन्होंने कहा कि वर्षों से हम सभी की इच्छा थी कि भव्य राम मंदिर का निर्माण हो लेकिन कांग्रेस पार्टी ने इसे लटकाना, अटकाना, भटकाना जारी रखा।

किसानों की आय दुगुना करने लागु की स्वामीनाथन रिपोर्ट 

उन्होंने कहा, ‘‘ हम धन्यवाद देते हैं कि सुप्रीम कोर्ट ने फैसला किया, मोदी जी ने शिलान्यास किया और अब भव्य राममंदिर का निर्माण होगा।” कृषि क्षेत्र में स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशों को लागू करने का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि फसल की लागत का डेढ गुना एमएसपी किसान को देने का फैसला मोदी सरकार ने ही किया। भाजपा अध्यक्ष ने मखाना, भागलपुरी रेशम और मधुबनी पेंटिंग का जिक्र करते हुए कहा कि आत्मनिर्भर भारत के तहत इसे बढ़ावा दिया जायेगा ।

गरीब जनता की सेवा वो ही कर सकता है जिसका 56 इंच का सीना 

नड्डा ने कहा, ‘‘ राजनीति में भाषण देना बहुत आसान होता है, नारा लगाना बहुत आसान होता है, लेकिन गरीब जनता की सेवा वो ही कर सकता है जिसका 56 इंच का सीना होता है ।” कोविड-19 से निपटने और लोगों को राहत देने के सरकार के कदमों का उल्लेख करते हुए नड्डा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत देश के 80 करोड़ लोगों को मार्च से लेकर छठ व दीवाली तक 5 किलो गेहूं या चावल और 1 किलो दाल मुफ्त देने की व्यवस्था की।