ambani

    नयी दिल्ली. एक बड़ी खबर के अनुसार महाराष्ट्र (Maharashtra) के मुंबई में मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) के घर के बाहर विस्फोटक से भरी गाड़ी के मामले में जैश-उल हिंद (Jaish-Ul-Hind) नाम के एक संगठन ने इसकी जिम्मेदारी ली है। बताया जा रहा है कि इस संगठन ने टेलीग्राम ऐप (Telegram App) के जरिए खुद इस बात की जिम्मेदारी ली है। गौरतलब है कि कुछ दिन पहले भी इसी संगठन ने दिल्ली में इज़रायल एम्बेसी के बाहर हुए ब्लास्ट की ज़िम्मेदारी उठाई थी। वहीं इस संगठन की तरफ से बिटकॉइन से भी पैसे की डिमांड या मांग रखी गई थी।

    किया जांच एजेंसी को किया चैलेंज: 

    जैश-उल हिंद नाम के इस संगठन ने एक मैसेज के जरिए अब जांच एजेंसी को चैलेंज किया। इस मैसेज में लिखा गया है, ”रोक सको तो रोक लो तुम तब भी कुछ नहीं कर पाए थे जब हमने तुम्हारी नाक के नीचे दिल्ली में ही तुम्हें हिट किया था, तुमने मोसाद के साथ हाथ भी मिलाया लेकिन कुछ हासिल नहीं हुआ, तुम लोग हर बार बुरी तरह फेल हुए और आगे भी तुम लोगों को कभी कोई सफलता नहीं मिलेगी”। वहीं मैसेज के अंत में लिखा गया है कि, (अम्बानिज के लिए) अब तुम्हें मालूम है तुम्हें क्या करना है। बस वे पैसे ट्रांसफर कर दो जो तुम्हें पहले भी बोला गया है।

    इजरायल दूतावास के बाहर ब्लास्ट की भी ली थी जिम्मेदारी:

    बता दें कि बीते 29 जनवरी की शाम दिल्ली में इज़रायल दूतावास के पास एक जोरदार धमाका हुआ था, वहीं इस ब्लास्ट में करीब 5-6 गाड़ियों को नुकसान भी पहुंचा था। हालांकि, इस घटना में किसी की जान नहीं गयी थी। गौरतलब है कि जब ये धमाका तब हुआ था जब घटनास्थल से कुछ ही दुरी पर बीटिंग रिट्रीट का कार्यक्रम भी चल रहा था और वहां देश के बड़े बड़े VIP भी  मौजूद थे। इस घटना की भी जिम्मेदारी जैश-उल हिंद नाम के संगठन ने ही ली थी। इस घटना पर संगठन ने यह दावा किया था कि उसने ही इजरायली दूतावास के सामने यह धमाका करवाया है। इसके साथ ही खुफिया एजेंसियों को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म टेलीग्राम पर एक चैट भी मिला था जिसमें इस बात का जिक्र था।

    क्या थी  घटना:

    गौरतलब है कि बीते गुरुवार 25 फरवरी की देर रात को मुकेश अंबानी के घर के बाहर एक संदिग्ध स्कॉर्पियो पाई गई थी। जी हाँ रिलायंस इंडस्ट्रीज के अध्यक्ष मुकेश अंबानी के आवास ‘एंटीलिया’ के निकट कार्मिकल रोड पर बृहस्पतिवार को एक संदिग्ध स्कॉर्पियो खड़ी पाई गयी थी जिसमें जिलेटिन की 20 छड़ें थी। मुंबई पुलिस के प्रवक्ता ने बताया था कि गामदेवी पुलिस थाने में अज्ञात लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है। उन्होंने बताया था कि पुलिस ने भारतीय दंड संहिता की अनेक धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है। पुलिस ने बताया कि वाहन के नंबर प्लेट पर जो पंजीकरण नंबर है वह अंबानी की सुरक्षा में लगी एक SUV के ही समान है।