Indian army
File Pic

    श्रीनगर: जम्मू कश्मीर के श्रीनगर में शुक्रवार को सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में लश्कर-ए-तैयबा के दो आतंकवादी मारे गए और दो सुरक्षा कर्मी घायल हो गए। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। पुलिस के प्रवक्ता ने बताया, ‘‘श्रीनगर के दानमार इलाके में स्थित आलमदार कॉलोनी में आतंकवादियों के छुपे होने की मिली सूचना के बाद पुलिस और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) ने इलाके में संयुक्त घेराबंदी और तलाश अभियान शुरू किया।” 

    उन्होंने बताया कि शुक्रवार तड़के तलाश अभियान के दौरान आतंकवादियों की मौजूदगी की पुष्टि होने के बाद उनसे आत्मसमर्पण को कहा गया, लेकिन उन्होंने संयुक्त अभियान दल पर अंधाधुंध गोलीबारी शुरु कर दी। सुरक्षा बलों ने भी गोलीबारी का जवाब दिया जिसके बाद तलाश अभियान मुठभेड़ में बदल गया। 

    प्रवक्ता ने बताया, ‘‘मुठभेड़ के दौरान प्रतिबंधित आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा के दो आतंकवादी मारे गए और मुठभेड़ स्थल से उनके शव बरामद किए गए। उनकी पहचान इरफान अहमद सोफी और बिलाल अहमद भट के रूप में हुई है, दोनों श्रीनगर के नाटीपोरा के निवासी थे।” 

    अधिकारी ने बताया कि मुठभेड़ के दौरान गोलीबारी में सुरक्षाकर्मी भी घायल हो गए। घायलों में एक पुलिसक्रमी और एक सीआरपीएफ कर्मी है। दोनों को इलाज के लिए 92 बेस अस्पताल ले जाया गया है।” 

    प्रवक्ता ने बातया कि सोफी और भट लश्कर के द रेसिस्टेंस फ्रंट (टीआरएफ) से संबद्ध थे और वे पिछले साल दिसंबर में आतंकवादी संगठन में शामिल हुए थे। हाल में स्वयंभू आतंकवादी संगठन टीआरएफ ने सोशल मीडिया के जरिये बताया था कि सोफी और भट संगठन छोड़कर इस्लामिक स्टैट ऑफ जम्मू एंड कश्मीर (आईएसजेके) से जुड़ गए हैं। 

    पुलिस रिकॉर्ड के अनुसार वे पुलिस एवं सुरक्षाबलों तथा आम नागरिकों पर अत्याचार समेत आतंकी अपराध की कई घटनाओं में लिप्त थे। मारे गए दोनों आतंकवादियों ने पुलिसकर्मियों, सुरक्षाबलों और आम नागरिकों पर कई हमले किए थे। इनमें पिछले साल 14 दिसंबर को नातीपोरा में पीडीपी के एक नेता के निजी सुरक्षाकर्मी की हत्या भी शामिल है। 

    पुलिस रिकॉर्ड के अनुसार वे 25 मार्च को लवायपोरा में सीआरपीएफ की 73 बटालियन के पर हमले में भी शामिल थे जिसमें दो सुरक्षाकर्मी शहीद हो गए थे। प्रवक्ता ने बताया कि मुठभेड़ स्थल से हथियार एवं गोलाबारूद, एक एके-47 राइफल, पिस्तौल और आपत्तिजनक सामग्री बरामद की गई है। कश्मीर के पुलिस महानिदेशक विजय कुमार ने इस बड़ी सफलता के लिए सुरक्षाकर्मियों को बधाई दी है। 

    कुमार ने कहा कि इस साल कश्मीर घाटी में अब तक 78 आतंकवादियों को मार गिराया गया है। उन्होंने बताया कि इनमें से आधे आतंकवादी लश्कर से संबद्ध थे। शेष हिज्बुल मुजाहिदीन, अल-बद्र, जैश ए मोहम्मद और अंसार गजवातुल हिंद से जुड़े थे। (एजेंसी)