सर्वदलीय बैठक से पहले जम्मू-कश्मीर के कांग्रेस नेताओं ने गुलाम नबी आजाद के साथ चर्चा की

    नयी दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) की ओर से जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir) को लेकर बुलाई गई सर्वदलीय बैठक में जाने से पहले केंद्रशासित प्रदेश के दो प्रमुख कांग्रेस नेताओं ने बृहस्पतिवार को पार्टी के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद (Ghulam Nabi Azad) के साथ यहां मंत्रणा की। कांग्रेस सूत्रों के मुताबिक, आजाद के आधिकारिक आवास पर हुई बैठक में प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष गुलाम अहमद मीर और पूर्व मंत्री तारा चंद शामिल हुए। ये नेता प्रधानमंत्री के साथ सर्वदलीय बैठक में शिरकत करेंगे। 

    सूत्रों ने बताया कि जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री आजाद के साथ हुई इन दो वरिष्ठ नेताओं की बैठक में इसको लेकर चर्चा की गई कि सर्वदलीय बैठक में पार्टी की ओर से किन मुद्दों को उठाना है। सूत्रों का कहना है कि सर्वदलीय बैठक में कांग्रेस जम्मू-कश्मीर का पूर्ण राज्य का दर्जा बहाल करने की मांग को सबसे प्रमुखता से उठाएगी। 

    वर्ष 2019 में अनुच्छेद 370 निरस्त किए जाने और जम्मू कश्मीर को दो केंद्रशासित प्रदेशों में विभाजित किए जाने के बाद से यह केंद्र और जम्मू कश्मीर की मुख्यधारा के राजनीतिक नेताओं के बीच पहली बैठक है। इस बैठक के लिए कोई एजेंडा तय नहीं किया गया है और जम्मू कश्मीर के नेताओं ने कहा है कि वे इसमें शामिल होकर खुले मन से अपने विचार रखेंगे। (एजेंसी)