odisha

    जहाँ एक तरफ देश कोरोना की दूसरी लहर से युद्धरत है। ऐसे में इस भयंकर महामारी के बीच काम कर रहे डॉक्टरों को भगवान से कम का दर्जा नहीं मिला है। लेकिन फिर भी इन्हीं डॉक्टरों के साथ दुर्व्यवहार के मामले अभी भी बदस्तूर जारी हैं। ताजा घटना  असम की  होजाई जिले की है, जहां कोरोना से दम तोड़ने वाले एक मरीज के परिजनों ने जूनियर डॉक्टर की बुरी तरह लात-घूसों और चप्पलों तक से निर्दयतापूर्वक पिटाई कर दी। अब इस शर्मनाक वारदात का वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है।  

    क्या है घटना :

    घटना मंगलवार दोपहर करीब डेढ़ बजे के आसपास की बतायी जा रही है। अगर हम वीडियो देखें तो इसमें साफ़ देखा जा सकता है कि कैसे एक जूनियर डॉक्टर को कुछ लोग बेरहमी से मिलकर पीट रहे हैं। डॉक्टर की पहचान सीयूज कुमार सेनापति के तौर पर हुई है। कुछ यूजर्स ने इस वायरल वीडियो में असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा को भी टैग कर दिया है। 

    इधर इस घटना पर पीड़ित डॉक्टर ने बताया, “मरीज के परिजनों ने मुझसे कहा कि उनके पेशेंट की हालत बहुत ही गंभीर है। जब मैं मरीज को देखने पहुंचा तो पाया कि वह तो पहले ही दम तोड़ चुका है। इसके बाद मरीज के परिवारजनों ने अस्पताल के फर्नीचर को तोड़ना-फोड़ना शुरू किया और मुझ पर भी ताबड़तोड़ हमला कर दिया।”

    CM हिमंत बिस्वा सरमा ने किया ट्वीट: 

    इधर घटना की गंभीरता को देखते हुए मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने भी अब ट्वीट कर कहा है कि, “फ्रंटलाइन वर्करों पर इस तरह के क्रूर हमले बर्दाश्त नहीं किए जाएंगे।’ यही नहीं उन्होंने आरोपियों को सजा दिलवाए जाने की भी बात कही है। इसके साथ ही उन्होंने घटना में मौजूद 24 आरोपियों में से 8 के पहचाने जाने की भी पुष्टि की है। वहीं इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (IMA) की असम यूनिट ने इस हमले को लेकर अपनी नाराजगी जाहिर की है और पुलिस को चिट्ठी लिख इस घटना पर कड़ा ऐक्शन लेने की मांग की है। फिलहाल पुलिस अपनी तफ्तीश कर रही है।