ज्योतिरादित्य सिंधिया के बीजेपी में जाने से कांग्रेसी दुखी

भोपाल, मध्यप्रदेश में राजनीतिक समीकरण बहुत तेजी से बदले हैं। जहाँ एक तरफ अब कांग्रेस के बागी ज्योतिरादित्य सिंधिया ने बीजेपी का दामन थामा है जिसके चलते अब उनके पास सरकार बनाने का मौका है वहीँ अब

भोपाल, मध्यप्रदेश में राजनीतिक समीकरण बहुत तेजी से बदले हैं। जहाँ एक तरफ अब कांग्रेस के बागी ज्योतिरादित्य सिंधिया ने बीजेपी का दामन थामा है जिसके चलते अब उनके पास सरकार बनाने का मौका है वहीँ अब कांग्रेस हाशिये पर चली गयी है और उन पर अब बहुमत साबित करने का भी दबाव बढ़ गया है। वहीं अब कांग्रेस भी सिंधिया पर अलग -अलग तरह से वार करने पर जोर लगा रही है। 

विदित हो जब से ज्योतिरादित्य सिंधिया कांग्रेस छोड़ बीजेपी में प्रवेश किया है वहीं इससे कांग्रेस की टीस बढ़ गयी है। चर्चा के केंद्र में द एमपी कांग्रेस नाम के ऑफिशल ट्विटर अकाउंट से किए गए ट्वीट है जिसमे कहा गया है है कि ‘तेरी वजह से कम, तेरे लिए ज्यादा दुखी हैं।’ इस ट्वीट को सीधे तौर पर ज्योतिरादित्य सिंधिया के कांग्रेस छोड़ने से देखा जा रहा है। अब इसी ट्वीट पर लोगों ने भी तरह तरह की प्रतिक्रियाएं दी हैं।

जहाँ एक ट्विटर यूजर ने लिखा है कि ‘आखिर कबतक दुखी होने की वजह का वजन ढोते रहोगे। वजह को बाहर करो, चिंता छोड़ो सुख से जियो।’ वहीँ किसी ने अपने दुःख को छुपाते हुए लिखा है कि ‘जो निकला बेवफा, उसके लिए क्या दुखी होना।’ विदित हो कि अपने भोपाल प्रवास के दौरान कुछ कांग्रेसियों ने श्री सिंधिया के काफिले को घेर लिया था और उन्हें काले झंडे दिखाए गए। उनके खिलाफ जमकर नारेबाजी भी हुई थी। चाहे जो हो इस प्रकरण से यह तो साफ़ हो गया कि श्रीमंत ज्योतिरादित्य सिंधिया के रूप में कांग्रेस ने एक बड़ा नेता खोया है और इसका खामियाजा उन्हें शायद मध्यप्रदेश की सत्ता खोकर चुकाना पड़ सकता है।