Kangana Ranaut has knocked the court door, demand for cancellation of FIR, Appeal to stop summons

मुंबई: अभिनेत्री कंगना रनौत (Kangana Ranaut) और उनकी बहन रंगोली चंदेल (Rangoli Chandel) ने सोमवार को बॉम्बे हाईकोर्ट (Bombay High Court) में याचिका दायर कर अपने खिलाफ मुंबई पुलिस (Mumbai Police) द्वारा दर्ज एक प्राथमिकी (FIR) को रद्द करने का अनुरोध किया। यह प्राथमिकी सोशल मीडिया (Social Media) पर किए गए पोस्ट के जरिए समाज में नफरत और सांप्रदायिक तनाव पैदा करने के आरोप में दर्ज की गई है।

बांद्रा मजिस्ट्रेट अदालत (Bandra Magistrate Court) के आदेश के अनुसरण में दर्ज प्राथमिकी में राजद्रोह का आरोप भी है। मजिस्ट्रेट अदालत ने पुलिस को निर्देश दिया था कि रनौत और उनकी बहन के खिलाफ जांच करें। उनके वकील रिजवान सिद्दीकी (Rizwan Siddique) ने पीटीआई-भाषा से कहा, “कंगना और रंगोली ने प्राथमिकी और मजिस्ट्रेट का आदेश रद्द कराने के लिए बॉम्बे हाईकोर्ट में याचिका दायर की है।”

उन्होंने कहा कि याचिका में अदालत से यह भी अनुरोध किया गया है कि पूछताछ के वास्ते पुलिस के समक्ष पेश होने के लिए जारी समन पर भी रोक लगाई जाए और पुलिस को निर्देश दिया जाए कि वह उनके खिलाफ दंडात्मक कार्रवाई नहीं करे।

मुंबई पुलिस ने पिछले हफ्ते रनौत और उनकी बहन को तीसरी बार समन जारी कर 23 और 24 नवंबर को दो समुदायों के बीच कथित रूप से दुश्मनी को बढ़ावा देने के लिए अपने बयान दर्ज कराने को कहा था।