yediyurappa
File Pic

    नयी दिल्ली. कर्नाटक (Karnatka) के मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा (S.Yediyurappa) ने अपने इस्तीफे की अटकलों को शनिवार को खारिज करते हुए कहा कि इनमें कोई सच्चाई नहीं है। उन्होंने यह भी कहा कि वह बेंगलुरु लौटने से पहले केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और भाजपा प्रमुख जे पी नड्डा से मुलाकात करेंगे। इस सवाल पर कि क्या उन्होंने इस्तीफा दे दिया, यहां कर्नाटक भवन में येदियुरप्पा ने पत्रकारों से कहा, ‘‘बिल्कुल भी नहीं।” मुख्यमंत्री ने कहा कि अफवाह में कोई सच्चाई नहीं है।

    दरअसल, इस्तीफे की खबरों के बीच कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा आज दिल्ली में हैं। उन्होंने बीते शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की थी। इसके बाद आज यानी शनिवार को वे भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात करने पहुंचे। इसके साथ ही वे आज रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से भी मुलाकात करेंगे।हालांकि, जेपी नड्डा से मुलाकात के बाद उन्होंने इस्तीफे की अटकलों को नया ट्विस्ट दे दिया। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी से कर्नाटक के विकास के मुद्दों पर बात हुई।

    सूत्रों के मुताबिक, येदियुरप्पा ने पीएम मोदी से कहा है कि वे उनके हर निर्देश का पालन करेंगे। अगर पीएम मोदी कहेंगे तो वे इस्तीफा देने के लिए तैयार हैं।हालाँकि आज जेपी नड्डा से मुलाकात कर उन्होंने कहा कि उनसे इस्तीफे के लेकर कोई भी बात नहीं हुई है और वे फिलहाल अपना इस्तीफा नहीं दे रहे हैं। अब वे कुछ देर बाद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से भी मुलाकात करेंगे।

    गौरतलब है कि येदियुरप्पा भाजपा प्रमुख और केंद्रीय मंत्रियों से मुलाकात करने के बाद शनिवार को बेंगलुरु लौटेंगे। येदियुरप्पा ने शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मुलाकात की थी और कावेरी नदी पर मेकेदतु परियोजना समेत राज्य के लंबित कार्यों पर चर्चा की। यह बैठक ऐसे समय में हुई है जब राजनीतिक हलकों में ये अटकलें लगायी जा रही हैं कि येदियुरप्पा को मुख्यमंत्री पद से हटाया जा रहा है। कर्नाटक भाजपा के कुछ असंतुष्ट नेता येदियुरप्पा और उनके परिवार पर भ्रष्टाचार तथा प्रशासन में हस्तक्षेप के आरोपों को लेकर निशाना साध रहे हैं जिससे पार्टी तथा सरकार की फजीहत हुई है।

    हालाँकि पार्टी का एक अन्य धड़ा येदियुरप्पा (79) को उनकी उम्र को देखते हुए हटाने की मांग कर रहा है तथा 2023 के विधानसभा चुनावों में मुख्यमंत्री का नया चेहरा पेश करने की जरूरत पर जोर दे रहा है। मंत्रिमंडल में संभावित फेरबदल पर येदियुरप्पा ने प्रधानमंत्री के साथ मुलाकात से पहले कहा था, ‘‘अगर मंत्रिमंडल में फेरदबल या विस्तार पर पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के साथ कोई चर्चा होती है तो मैं आपको बताऊंगा।”