ramesh-ajrkiholi

    बेंगलुरु. प्राप्त खबरों के अनुसार कर्नाटक (Karnataka)में एक सेक्‍स स्‍कैंडल के वीडियो (Sex Scandal video) को लेकर अब वहां की सियासत में भारी उबाल आ गया है। खबर है की कर्नाटक के जल संसाधन मंत्री रमेश जारकीहोली (Ramesh Jarkiholi) पर कथित रूप से यौन शोषण का गंभीर आरोप लगा है। बताया जा रहा है कि एक सीडी लोगों के बीच आयी है जिसमे कथित रूप से  मंत्री रमेश जारकीहोली एक महिला से यौन संबंध बनाने के लिए कहते देखे गए हैं। 

    इधर कर्नाटक के मंत्री (Karnataka minister) रमेश जारकीहोली ने इस वीडियो को पूरी तरह से फर्जी बताया है। वहीं, एक अन्य सामाजिक कार्यकर्ता दिनेश कल्लहल्ली ने इस बारे में बेंगलुरु शहर के पुलिस आयुक्त के पास एक लिखित शिकायत दर्ज कराई है और उसमे पीड़िता के लिए सुरक्षा की मांग भी की है। 

    गौरतलब है कि कर्नाटक में इस वीडियो के सामने आने के बाद राजनीतिक भूचाल आ गया है। वहीं बेंगलुरु में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने सेक्‍स टेप मामले में मंत्री रमेश जारकीहोली के खिलाफ प्रदर्शन भी किया है। इधर मंत्री रमेश जारकीहोली (Ramesh Jarkiholi) ने इस मुद्दे पर स्पष्ट कहा है कि, “यह एक फेक वीडियो है। मैं यहां तक कि इस महिला और शिकायतकर्ता को नहीं जानता हूं। मैं मैसूर में था। मैं हाईकमान से मीटिंग करके कथित आरोप वाले वीडियो पर अपनी सफाई रखूंगा।” इसके साथ ही मंत्री जारकीहोली ने यह भी कहा कि अगर उनपर लगे आरोप सहीं हुए तो वे राजनति और मंत्री पद दोनों ही छोड़ देंगे।

    विदित हो कि बीते मंगलवार को कर्नाटक के जल संसाधन मंत्री रमेश जारकीहोली पर कथित यौन शोषण का बड़ा ही गंभीर आरोप लगा है। वहीं एक सीडी में कथित तौर पर मंत्री एक महिला से यौन संबंध बनाने के लिए भी कहते देखे गए हैं। इदह्र यह सीडी बीते मंगलवार को विभिन्न समाचार चैनलों को भी जारी की गई। इस पर एक सामाजिक कार्यकर्ता दिनेश कल्लहल्ली ने इस बारे में बेंगलुरु शहर के पुलिस आयुक्त के पास शिकायत दर्ज कराई और पीड़िता की जान की सुरक्षा की मांग की।

    वहीं उक्त शिकायत के होने के बाद सामाजिक कार्यकर्ता दिनेश कल्लहल्ली ने मीडियाकर्मियों से रूबरू होते हुए बताया कि  इस सीडी में मंत्री दिख साफ़ तरह से दिख रहे हैं, जो कथित रूप से एक महिला से यौन संबंध बनाने के लिए कह रहे हैं। इसके साथ ही उनका कहना था कि, “शिकायत मेरे द्वारा दायर की गई है, न कि उक्त पीड़िता द्वारा, क्योंकि वह बेहद डरी हुई है और अपनी जिंदगी को खतरे में महसूस कर रही है।उसे डर है कि मंत्री रमेश जारकीहोली उसे जान से मरवा भी सकते हैं।”