army

जम्मू. पाकिस्तानी बलों (Pakistan Army) ने जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) के राजौरी जिले में नियंत्रण रेखा पर स्थित अग्रिम चौकियों पर गोलीबारी की, जिसमें शनिवार को सेना का एक जवान शहीद हो गया जबकि दो महिलाओं समेत तीन अन्य लोग घायल हो गए। 

इस घटना के बमुश्किल एक हफ्ते पहले, 13 नवंबर को उत्तर कश्मीर में नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तानी सैनिकों ने कई बार संघर्ष विराम का उल्लंघन किया था जिसमें पांच सुरक्षाकर्मी समेत कुल 11 लोगों की मौत हो गई थी।

अधिकारियों ने बताया कि राजौरी जिले के नौशेरा सेक्टर के लाम इलाके में सीमा पार से देर रात करीब एक बजे हुई गोलीबारी में अग्रिम चौकी पर तैनात हलवदार पाटिल संग्राम शिवाजी गंभीर रूप से घायल हो गए थे। अधिकारियों ने बताया कि बाद में शिवाजी की मौत हो गई।

उन्होंने बताया कि एक अन्य सैनिक घायल हुआ है और उसका सेना के अस्पताल में उपचार चल रहा है। अधिकारियों ने कहा कि भारतीय सेना ने पाकिस्तानी कार्रवाई का मुंहतोड़ जवाब दिया और दोनों तरफ से सीमा पार गोलीबारी कुछ समय तक जारी रही। जम्मू स्थित व्हाइट नाइट कोर के जनरल ऑफिसर कमांडिंग तथा अन्य अधिकारियों ने शहीद जवान के प्रति सम्मान व्यक्त किया और उनके परिवार के प्रति संवदेनाएं जताईं।

सेना की ओर से जारी वक्तव्य में रक्षा प्रवक्ता की ओर से कहा गया कि महाराष्ट्र के कोल्हापुर के निगावे गांव के निवासी हवलदार शिवाजी साहसी, उत्साही और निष्ठावान सैनिक थे। उन्होंने कहा, “उनके सर्वोच्च बलिदान एवं कर्तव्यपरायणता के लिए राष्ट्र सदैव उनका आभारी रहेगा।”

अधिकारियों ने कहा कि शाम को संघर्ष विराम उल्लंघन की एक अन्य घटना में पुंछ जिले के भागल डारा गांव में नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तान की तरफ से की गई गोलीबारी और मोर्टार दागे जाने से दो महिलाएं- सकीना बी (40) और मंशा बी (18)- घायल हो गईं। अधिकारियों ने कहा कि शाम करीब पांच बजकर 50 मिनट पर हुई गोलाबारी के बीच दोनों महिलाओं को वहां से निकालकर अस्पताल पहुंचाया गया।

पुंछ जिले के मालती और दलान सेक्टरों में भी पाक की तरफ से गोलीबारी की खबर है। रक्षा प्रवक्ता ने कहा कि पाकिस्तान ने शाम करीब छह बजे राजौरी के नौशेरा सेक्टर में छोटे हथियारों और मोर्टार से फायरिंग की। भारतीय पक्ष की तरफ से इसका मुंहतोड़ जवाब दिया गया। उन्होंने कहा कि अंतिम समाचार मिलने तक सीमापार गोलीबारी जारी थी।

अधिकारियों ने कहा कि पाकिस्तानी रेंजर्स ने कठुआ जिले के हीरानगर सेक्टर में आईबी पर बिना उकसावे के गोलीबारी की। उन्होंने बताया कि सतपाल, मानयारी, लडवाल और करोल कृष्ण सीमा चौकी इलाकों में पाकिस्तान की ओर से शुक्रवार रात दस बजे के आसपास गोलीबारी शुरू हुई जिसका सीमा सुरक्षा बल ने मुंहतोड़ जवाब दिया।

सीमा पार से गोलीबारी शनिवार सुबह करीब साढ़े पांच बजे तक जारी रही, हालांकि इसमें भारतीय पक्ष को जानमाल के नुकसान की किसी नुकसान की खबर नहीं है। अधिकारियों ने कहा कि इस बीच पुंछ जिले के औद्योगिक क्षेत्र में पुलिस के गश्ती दल को एक जंग लगा हथगोला मिला जिसे बाद में बम निरोधक दस्ते के विशेषज्ञों ने निष्क्रिय कर दिया।