Airport

    नई दिल्‍ली: यदि आप हवाई जहाज (Airplane) से यात्रा करने का विचार कर रहे हैं तो यह खबर पढ़ना आपके लिए बेहद जरूरी और उपयोगी साबित हो सकता है। बढ़ते कोरोना वायरस संक्रमण  (Corona Virus Infection) के बाद अब यात्रियों (Passengers) को और अधिक सावधान होने की आवश्यकता है। 

    इस संबंध में डायरेक्टरेट जनरल ऑफ सिविल एविएशन (DGCA) ने यात्रा की नई गाइडलाइंस (Guidelines) जारी की है। अगर इन नियमों का यात्री पालन नहीं करते हैं तो आपकी यात्रा को प्रतिबंधित (Banned) भी किया जा सकता है। तो चलिए जानते हैं यह नई गाइडलाइंस –

    बात यह है कि, देश में बढ़ रहे कोरोना महामारी के मामलों के मद्देनजर डीजीसीए ने यात्रियों को पहले से और ज्यादा सावधानी बरतने की सलाह दी है। इस संबंध में डीजीसीए ने नई गाइडलाइंस जारी की है। साथ ही यह भी चेतावनी दी है कि अगर यात्री इन नियमों का पालन नहीं करते हैं तो उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी। यदि यात्री द्वारा बार-बार गलती दोहराई जाती है तो उनके हवाई सफर पर लंबा प्रतिबंध भी सकता है। 

    डीजीसीए ने जारी सर्कुलर में कहा कि हवाई अड्डे में एंट्री लेने के बाद से लेकर निकलने तक मास्क पहनना अनिवार्य होगा। आगे कहा गया कि हवाई यात्रा के दौरान यात्रियों को सोशल डिस्टेंसिंग और सभी कोरोना गाइडलाइंस का अनिवार्यतः पालन करना होगा। नियमों के उल्लंघन पर यात्री को प्‍लेन से उतार दिया जाएगा। 

    वहीं, जो यात्री अपनी यात्रा के दौरान बार-बार नियमों को तोड़ने की गलती करेंगे, उन्हें ‘उपद्रवी यात्री’ (Unruly Passenger) करार कर दिया जाएगा। जानकारी के मुताबिक, यह सभी नियम छह महीने, एक वर्ष, या फिर दो वर्ष के लिए लागू रह सकते हैं।

    इन नियमों का करना होगा पालन  

    • यात्रा के दौरान मास्क पहनना, शारीरिक दूरी का पालन करना कंपलसरी होगा।
    • मास्क को तब तक नाक के नीचे नहीं उतारा जा सकता है , जब तक 
    • कोई संकट या विषम परिस्थित‍ि न उत्पन्न हो।
    • कोविड प्रोटोकॉल का पालन नहीं करने पर कानूनी कार्रवाई होगी।
    • डिपार्चर के बाद भी ठीक से मास्‍क नहीं पहनने पर यात्री को उतार दिया जाएगा।
    • सफर के दौरान अगर यात्री कोविड प्रोटोकॉल्‍स का पालन नहीं करता तो उसके साथ ‘उपद्रवी यात्री’ की तरह व्यवहार किया जाए।
    • ‘उपद्रवी यात्री’ घोषित होने पर आप की हवाई यात्रा पर बैन लगा दिया जाएगा।