मैं आश्वस्त हूं, CRPF कमांडो की होगी सुरक्षित वापसी: उपराज्यपाल मनोज सिन्हा

    जम्मू: जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir) के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा (LG Manoj Sinha) ने बुधवार को कहा कि उन्हें भरोसा है कि नक्सलियों द्वारा अगवा कर बंधक बनाया गया कोबरा कमांडो “सुरक्षित लौट” आएगा। छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के बीजापुर जिले में सुरक्षा बलों और नक्सलियों के बीच हाल में हुई मुठभेड़ में कोबरा कमांडो को नक्सलियों ने अगवा कर लिया था।

    सिन्हा ने कहा कि केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) कमांडो राकेश्वर सिंह मिनहास की रिहाई के लिए किए जा रहे प्रयासों को सार्वजनिक नहीं किया जा सकता है। उपराज्यपाल ने कठुआ जिले में एक कार्यक्रम से इतर संवाददाताओं से कहा, “मैं आपको बताना चाहता हूं कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Home Minister Amit Shah) और छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (Chief Minister Bhupesh Baghel) स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं। हमारी संवेदनाएं (अगवा किए गए) जवान के साथ हैं और हमें भरोसा है कि वह पूरी तरह ठीक और मजबूत होकर लौटेंगे। ईश्वर उन्हें हम तक सुरक्षित पहुंचाएगा।” सीआरपीएफ जवान के रिश्तेदारों ने बुधवार को यहां जम्मू-पुंछ राजमार्ग को अवरुद्ध कर सरकार से उसकी सुरक्षित रिहाई का आश्वासन मांगा।

    बीजापुर-सुकमा सीमा पर हुई मुठभेड़ में 210वीं कोबरा बटालियन के 31 जवान घायल हो गए थे, जबकि कमांडो मिनहास लापता हो गए थे और उन्हें बंधक बनाए जाने की बात सामने आई थी। उपराज्यपाल ने कहा, “जवान की रिहाई के लिए किए जा रहे प्रयास ऐसे नहीं हैं जिन्हें सार्वजनिक किया जाए।”