100% response to mini lockdown, order to keep school closed till 31 March
File Photo

    नई दिल्ली: भारत में कोरोना (Coronavirus Pandemic) का प्रकोप जारी है। महाराष्ट्र (Maharashtra) सहित कुछ राज्यों में कोविड-19 (COVID-19) के बढ़ते मामलों ने चिंता बढ़ा दी है। खासकर महाराष्ट्र (Maharashtra) में कोरोना के नए केस बहुत तेजी से बढ़े हैं। पिछले 24 घंटे की बात करें तो यहां 16,620 नए मामले सामने आए हैं। दरअसल यह मामले इस साल में एक दिन के भीतर आए सबसे अधिक केस में से एक हैं। यही कारण है कि सरकार की चिंता बढ़ गई है। जबकि मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) की बात करें तो यहां रविवार को 743 नए कोविड-19 के मामले सामने आए हैं। इसलिए सवाल उठ रहा है कि क्या अब महाराष्ट्र के बाद मध्य प्रदेश में भी सख्ती या जिन जगहों पर कोरोना के केस अधिक हैं वहां लॉकडाउन (Lockdown) का फैसला सरकार ले सकती है।

    बता दें कि मध्य प्रदेश में कोरोना के 743 नए मामले आने के बाद कुल संक्रमितों की संख्या 2 लाख 68 हजार 594 पहुंच गई है। जबकि रविवार के आंकड़ों के अनुसार दो लोगों की मौत भी हुई है। सूबे में अब तक कोविड-19 के कारण 3 हजार 800 से अधिक लोगों की जान गई है।

    वहीं महाराष्ट्र में कोरोना से पीड़ित मरीजों की संख्या बढ़कर 23 लाख 14 हजार के पार पहुंच गई है। साथ ही अब तक 52 हजार 861 लोगों की जान कोविड-19 की चपेट में आने से हुई है। जबकि मध्य प्रदेश में कोरोना के मामले बढ़ने के बाद सूबे की शिवराज सरकार सख्ती करने का मन बना रही है। इसे लेकर सीएम शिवराज सिंह चौहान ने अधिकारियों को रात के कर्फ्यू और अन्य चीजों पर चर्चा करने के लिए कहा है। ऐसे में अगर जरुरत पड़ती है तो सरकार की तरफ से बड़ा कदम उठाया जा सकता है।