लॉकडाउन : कौन सी सेवाएं रहेगी शुरू और बंद, जाने एक क्लिक पर

मुंबई.कोरोना वायरस के प्रकोप को रोकने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 21 दिनों के लॉकडाउन की घोषणा की। 24 अप्रैल की मध्यरात्रि से 14 अप्रैल तक यह लॉकडाउन लागु रहेगा। इस दौरान मोदी ने

मुंबई. कोरोना वायरस के प्रकोप को रोकने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 21 दिनों के लॉकडाउन  की घोषणा की। 24 अप्रैल की मध्यरात्रि से 14 अप्रैल तक यह लॉकडाउन लागु रहेगा। इस दौरान मोदी ने स्पष्ट किया की जीवनावश्यक सेवाएं शुरू रहेगी। तो आइये जानते इस लॉकडाउन के दौरान क्या शुरू रहेगा और क्या बंद रहेगा।  

यह सेवाएं रहेगी शुरू 

  • बैंक, एटीएम, बिमा कंपनी और वित्तीय संस्था 
  • प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया
  • दूरसंचार, मोबाइल सेवा, आयटी, पोस्ट, इंटरनेट और डेटा सेवा जीवनावश्यक वस्तु और आयत निर्यात करने वाली संस्थाए 
  • भोजन, दवा और किराने का सामान पहुंचाने वाली ई-कॉमर्स, ऑनलाइन डिलीवरी सेवा 
  • दूध, सब्जी, फल, बेकरी, मांस, मछली, अंडे की दुकानें, गोदाम और परिवहन सेवा 
  • उपरोक्त संस्थानों को मदद करने वाली अन्य संस्था 
  • केवल दवाई बनाने वाली फार्मा कंपनी, दूध, डेयरी उत्पाद, दाल चावल के निर्माता, जानवरों के लिए खाद्य बनाने वाली कंपनियां शुरू रहेगी 
  • सभी सरकारी कार्यालय, दुकानें और संस्थान कम से कम कर्मचारियों  के साथ काम जारी रहेगा। लेकिन दो व्यक्तियों में कम से कम 3 फीट की दूरी आवश्यकता है। ऐसे स्थानों में हाथ धोने की सुविधा के साथ-साथ हैंड सैनिटाइजर होना आवश्यक हैं। 

यह सेवाएं रहेगी बंद 

  • राज्य परिवहन सेवाएं, निजी बसें, मेट्रो, लोकल सेवाएं बंद कर दी गई हैं। इसके अलावा, निजी गाड़ियों में दो यात्री और रिक्शा में एक यात्री को ले जाने की अनुमति दी गई है। लेकिन निजी वाहन को जीवनावश्यक वस्तु और स्वास्थ्य कार्य के लिए सड़क पर आने की अनुमति हैं। 
  • सभी नागरिकों बेवजह घर से बाहर निकलने पर पाबंदी लगाई गई है। केवल आवश्यक सेवा लेने के लिए वह घर से बाहर निकल सकेंगे। इसके लिए भी सोशल डिस्टन्सिंग के नियमों का पालन करना होगा। 
  • होम क्वारंटाइन लोगों को घर छोड़ना प्रतिबंध है। नियमो का उल्लघन करने पर जुर्माना और सजा का प्रावधान किया गया है। साथ ही इन लोगों को सरकारी क्वारंटाइन कक्ष में रखा जायेगा। 
  • पांच से ज्यादा लोगो एक साथ आना प्रतिबंध हैं। 
  • सभी दुकानें, कार्यालय , कंपनियों, मैन्युफैक्चरिंग यूनिट्स बंद रहेंगे। 
  • सभी धार्मिक स्थल लोगों के लिए बंद रहेंगे

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि लॅकडाउन के दौरान आवश्यक चीजें कम नहीं पड़ेगी। राज्य और केंद्र सरकार के बिच समन्वय करके युद्धस्तर इसपर कार्य शुरू है।