मदन मित्रा का शुभेंदु पर हमला, कहा- टीएमसी आज बहुत खुश, पार्टी वायरस से मुक्त

कोलकाता: टीएमसी के बागी नेता और पूर्व मंत्री शुभेंदु अधिकारी (Suvendu Adhikari) आज गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) की अध्यक्षता में भाजपा (BJP) में शामिल हो गए। इसके बाद उन्होंने ने लोगों को संबोधित करते हुए ममता सरकार (Mamata Government) पर राज्य के अंदर कार्य नहीं करने का आरोप लगाया। वहीं शुभेंदु के इस आरोप पर बंगाल सरकार में मंत्री और टीएमसी के बड़े नेता मदन मित्रा (Madan Mitra) ने हमला बोलते हुए उन्हें एक वायरस बताया, साथ ही उन्होंने कहा, “कार्यकर्ता बहुत खुश है हम उससे मुक्त हो गए।”   

मित्रा ने कहा, “मुझे बताया गया है कि सुवेंदु ने कहा कि तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) ने पिछले 10 वर्षों से कुछ नहीं किया। अगर टीएमसी ने कुछ नहीं किया है तो पिछले 10 साल से आप चुप क्यों थे? यह दुर्भाग्य की बात है। आज टीएमसी कार्यकर्ताओं के लिए एक उल्लास भरी शाम होगी क्योंकि हम अब वायरस से मुक्त हो चुके हैं.”

साथ में 11 विधायक भी हुए शामिल 

पश्चिम मिदनापुर में आयोजित एक सभा में अधिकारी अपने समर्थकों के साथ भाजपा में शामिल होगए है. वहीं उनके साथ लोकसभा सांसद सुनील मंडल के साथ दस विधायक, एक पूर्व सांसद शामिल हुए. शामिल होने वाले विधायकों में तापसी मोंडल, अशोक डिंडा, सुदीप मुखर्जी, सैकत पंजा, शीलभद्र दत्ता, दिपाली बिस्वास, सुकरा मुंडा, श्यामपदा मुखर्जी, बिस्वजीत कुंडू और बनर्जी मैत्री सहित 25 पार्षद, दो जिला परिषद प्रमुख, 45 नगर पंचायत प्रमुख भी भाजपा में शामिल हुए. 

बंगाल की आर्थिक हालत बेकार 

भाजपा में शामिल होने के बाद सभा को संबोधित करते हुए कहा, “पश्चिम बंगाल की आर्थिक हालत बेहद कमजोर हो गई है. ममता बैनर्जी ने 10 साल के शासन में बंगाल के विकास के लिए कुछ नहीं किया. यदि राज्य को मुक्त करना है, तो इसकी बागडोर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सौंपने की आवश्यकता है.”

टीएमसी में नहीं बचा लोकतंत्र 

अधिकारी अपने संबोधन में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख ममता बनर्जी पर जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि, “टीएमसी में लोकतंत्र नहीं रह गया है. कैलाश विजयवर्गीय और अमित शाह को बाहर का  बताया जा रहा है. लेकिन यह जान लीजिए हम पहले भारतीय हैं उसके बाद बंगाली है. उहोने आगे कहा, “टीएमसी और उसके भ्रष्टाचार से हमें बंगाल को बचाना है.” उन्होंने टीएमसी को चेतावनी देते हुए कहा, “बंगाल में अब तक जो नहीं हुआ वह होगा, भाजपा के नेतृत्व में बनेगी सरकार.”