Sisodia

नयी दिल्ली.  कोरोना (Corona) वायरस से संक्रमित होने के चलते एक अस्पताल में भर्ती दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) के बृहस्पतिवार को डेंगू (Dengue) से पीड़ित होने की पुष्टि हुई। यह जानकारी सूत्रों ने दी। सूत्रों ने बताया कि सिसोदिया के रक्त में प्लेटलेट्स की संख्या में भी गिरावट आई है।

उन्होंने बताया कि ऑक्सीजन का स्तर कम होने और प्लेटलेट्स की संख्या में भी गिरावट आने के बाद सिसोदिया को बृहस्पतिवार शाम को दिल्ली सरकार के एलएनजेपी अस्पताल से साकेत स्थित निजी मैक्स अस्पताल के आईसीयू में भर्ती कराया गया। सिसोदिया संभवत: दिल्ली की पहली ऐसे प्रमुख हस्ती हैं जिन्हें कोविड-19 के साथ ही डेंगू से भी पीड़ित हुए हैं। 14 सितंबर को कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि के बाद सिसोसिया घर में पृथक-वास में थे।

इसके बाद आम आदमी पार्टी के 48 वर्षीय नेता को बुखार और ऑक्सीजन के स्तर में कमी के बाद बुधवार को एलएनजेपी अस्पताल में भर्ती किया गया था। एलएनजेपी अस्पताल के सूत्रों ने कहा, ” कोविड-19 और डेंगू के दोहरे संक्रमण के उपचार के लिए यहां कोई मानक प्रोटोकॉल नहीं है।” एक अन्य सूत्र ने कहा कि दोनों बीमारियों के इलाज के दौरान मंत्री की आयु, स्वास्थ्य स्थिति और अन्य किसी बीमारी के साथ ही सभी कारकों को भी ध्यान में रखा जाएगा।

इससे पहले, एक वीडियो मैसेज में सिसोदिया ने एलएनजेपी अस्पताल में डॉक्टरों द्वारा किए जा रहे प्रयासों की सराहना की। उन्होंने कहा, ‘‘मुझे एलएनजेपी अस्पताल लाया गया, क्योंकि इसकी जरूरत महसूस की गयी थी। लेकिन यहां के डॉक्टरों और अन्य स्वास्थ्यकर्मियों का मनोबल देखकर उपमुख्यमंत्री के नाते मैं कहूंगा कि यह बहुत उत्साहजनक है।” कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि होने के कारण सिसोदिया 14 सितंबर को दिल्ली विधानसभा के एक दिवसीय सत्र में हिस्सा नहीं ले पाए थे। सिसोदिया के पहले दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन भी संक्रमित हो गए थे। जैन जून में संक्रमित हुए थे और उन्हें अस्पताल में भर्ती किया गया था।