modi

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज सुबह 11 बजे अपने रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ के जरिए देश को संबोधित कर रहे हैं।

यहां पढ़ें अपडेट:

  • हर भारतीय को यह जानकर गर्व महसूस होगा कि देवी अन्नपूर्णा की एक प्राचीन मूर्ति को कनाडा से भारत वापस लाया जा रहा है। लगभग 100 साल पहले 1913 में, यह मूर्ति वाराणसी के एक मंदिर से चुराई गई थी और देश के बाहर तस्करी की गई थी।
  • PM मोदी ने कहा, कनाडा से मां अन्नापूर्णा देवी की मूर्ति वापस लाई गई है। इसके लिए कनाडा सरकार का आभार व्यक्त करता हूं। प्रतिमा का वापस आना हमारे लिए सुखद। ऐसा करने वाले गिरोह पर सख्ती लगाई जा रही है। भारत प्रतिमाएं वापस लाने का प्रयास कर रहा है।
  • पीएम मोदी ने कहा कि माता अन्नपूर्णा की प्रतिमा की वापसी के साथ एक संयोग यह भी जुड़ा है कि कुछ दिन पूर्व ही वर्ल्ड हेरिटेज हेरिटेज वीक मनाया गया है।
  • वर्ल्ड हेरिटेज हेरिटेज वीक संस्कृति प्रेमियों के लिए, पुराने समय में वापस जाने, उनके इतिहास के अहम पड़ावों को पता लगाने का एक शानदार अवसर प्रदान करता है।
  • PM मोदी ने आगे कहा कि अजंता की गुफाओं की पेंटिंग्स को संजोने का काम चल रहा है। प्रकृति को देखने के नजरिए में बदलाव आया है।
  • उन्होंने कहा, भारत की संस्कृति और शास्त्र हमेशा से ही पूरी दुनिया के लिए आकर्षण का केंद्र रहे हैं। कुछ लोग उनकी तलाश में भारत आए और जीवन भर यहीं रहे। जबकि कुछ भारत के सांस्कृतिक राजदूत के रूप में अपने देशों में लौट आए।
  • आज देश में कई संग्रहालय और लाइब्रेरी अपने कलेक्शन को पूरी तरह से डिजिटल बनाने का काम कर रहे है। दिल्ली में हमारे राष्ट्रीय संग्रहालय ने इस संबंध में कुछ सराहनीय प्रयास किए हैं। 
  • कल 30 नवंबर को हम श्री गुरु नानक देव जी का 551वां प्रकाश पर्व मनाएंगे। पूरी दुनिया में गुरु नानक देव जी का प्रभाव स्पष्ट रूप से दिखाई देता है। मुझे महसूस होता है कि गुरु साहब की मुझ पर विशेष कृपा रही जो उन्होंने मुझे हमेशा अपने कार्यों में बहुत करीब से जोड़ा है। 
  • पिछले वर्ष नवंबर में करतारपुर साहिब कॉरिडोर का खुलना बहुत ही ऐतिहासिक रहा। विदेश में रहने वाले हमारे सिख भाई-बहनों के​ लिए अब दरबार साहिब की सेवा के लिए राशि भेजना और आसान हो गया है। इस कदम से विश्वभर की संगत, दरबार साहिब के और करीब आ गई है।
  • PM ने आगे कहा, मुझे जोनास मैसेट्टी के काम के बारे में पता चला, जिन्हें ‘विश्वनाथ’ के नाम से भी जाना जाता है। जोनास ब्राजील में वेदांत और गीता पर पाठ देते है। वह ‘विश्वविद्या’ नामक एक संस्था चलाते हैं जो रियो डी जनेरियो से एक घंटे के ड्राइवर के बारे में पेट्रोपोलिस की पहाड़ियों में स्थित है।
  • उन्होंने कहा, बीते दिनों हुए कृषि सुधारों ने किसानों के लिए नई संभावनाओं के द्वार खोले हैं। काफी विचार​-विमर्श के बाद भारत की संसद ने कृषि सुधारों को कानूनी स्वरूप दिया। इन सुधारों से न सिर्फ किसानों के अनेक बंधन समाप्त हुए, बल्कि उन्हें नए अधिकार, नए अवसर भी मिले हैं।
  • PM मोदी बोले, 5 दिसबंर को श्री अरबिंदो की पुण्यतिथि है। श्री अरबिंदो को हम जितना पढ़ते हैं उतनी ही गहराई हमें मिलती जाती है। मेरे युवा साथी श्री अरबिंदो को जितना जानेंगे, उतना ही अपने आप को जानेंगे, खुद को समृद्ध करेंगे।