Mehbooba Mufti
PTI Photo

श्रीनगर: पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (Peoples Democratic Party) प्रमुख और जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ़्ती  (mehbooba Mufti) के राष्ट्र विरोधी बयान के विरोध में तीन नेताओं ने पार्टी से त्याग पत्र दे दिया है. इस्तीफा देने वाले नेताओं में टीएस बाजवा, वेद महाजन और हुसैन ए वफ़ा शामिल है. पार्टी अध्यक्ष महबूबा मुफ़्ती को लिखे एक पत्र में उन्होंने कहा कि, “वे ‘उनके कुछ कामों और बयानों, विशेष रूप से जो देशभक्ति की भावनाओं को आहत करते हैं की वजह से असहज महसूस कर रहे हैं.”

ज्ञात हो की शुक्रवार को महबूबा मुफ़्ती ने राष्ट्रध्वज का अपमान करते हुए कहा था कि, “मैं तब तक कोई भी झंडा हाथ में नहीं उठाएंगी जब तक जम्मू-कश्मीर का विशेष दर्जा और उनका संविधान वापस नहीं लौटाया जाएगा. लोगों को ना उम्मीद नहीं होना चाहिए, हम अनुच्छेद 370 और अपना विशेष दर्जा वापस लेकर ही रहेंगे.”

राष्ट्र और राष्ट्रीय ध्वज पहले

हुसैन ए वफ़ा ने इस्तीफा देने के बाद मीडिया से बात करते हुए कहा, “राष्ट्र और राष्ट्रीय ध्वज पहले आता है, उसके बाद राज्यों और राजनीतिक दलों का आता है. राष्ट्रीय ध्वज हमारी पहचान है.”

भाजपा ने पीडीपी कार्यालय ने लगाया तिरंगा 

तिरंगे को लेकर दिए विवादित बयान को लेकर भारतीय जनता पार्टी महबूबा मुफ़्ती पर लगातार हमलावर है. इसी को लेकर भाजपा ने सोमवार को तिरंगा रैली का आयोजन किया था. इस दौरान कार्यकर्ताओं ने पीडीपी मुख्यालय में तिरंगा झंडा फहराया और जम कर नारेबाज़ी की.