milkha

    नयी दिल्ली. एक बड़ी खबर के अनुसार अब सोशल मीडिया में यह झूठी बात या खबर फैलाई जा रही है कि प्रख्यात पूर्व धावक और ‘फ्लाइंग सिख’ (Flying Sikh) की उपमा पाने वाले मिल्खा सिंह (Milkha Singh) की मृत्यु हो गयी है। हालाँकि जब नवभारत’ ने इस खबर के तथ्यों को जानने की कोशिश की तो पता चला कि यह खबर पूर्णतः झूठी है। गौरतलब है कि मिल्खा सिंह को बीते बृहस्पतिवार को ही चंडीगढ़ के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया था। 

    इस बाबत केन्द्रीय कबिनेट मंत्री किरण रिजिजू (Kiren Rijiju) ने एक ट्वीट कर कहा कि, “कृपया झूठी खबरें बिल्कुल नहीं चलाएं और महान एथलीट और भारत के गौरव मिल्खा सिंह जी के बारे में इस तरह की झुठी अफवाहें न फैलाएं। वह फिलहाल ठीक और स्थिर हैं और हम उनके शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना भी करते हैं। “

    इस बात की पुष्टि स्वयं डॉ. जगत राम, PGIMER निदेशक, चंडीगढ़ ने भी की है। 

    बता दें कि बीते शुक्रवार को ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने दिग्गज धावक मिल्खा सिंह (Milkha Singh) से बात की थी और उनकी सेहत के बारे में जाना था। मिल्खा सिंह को बृहस्पतिवार को चंडीगढ़ के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

    प्रधानमंत्री मोदी ने यह उम्मीद भी जताई थी कि सिंह जल्द ही स्वस्थ होकर लौटेंगे और खिलाड़ियों को प्रेरित करेंगे जो तोक्यो ओलंपिक्स में भाग लेने वाले हैं। “फ्लाइंग सिख” के तौर पर प्रसिद्ध सिंह हाल में कोरोना वायरस संक्रमण की चपेट में आ गए थे । ऑक्सीजन का स्तर लगातार घटने के कारण उन्हें अस्पताल के गहन देखभाल कक्ष (आईसीयू) में भर्ती कराया गया था। 91 वर्षीय मिल्खा सिंह की हालत फिलहाल स्थिर है।