Modi government sent team to Mumbai after vaccine shortage reports in Maharashtra
Image:Twitter

    मुंबई: भारत (India) में एक बार फिर से कोरोना वायरस (Coronavirus) तेजी से बढ़ता जा रहा है। कोविड-19 (COVID-19) का सबसे ज्यादा कहर महाराष्ट्र (Maharashtra) सहित देश के कुछ राज्यों में देखने को मिल रहा है। ऐसे में महाराष्ट्र में कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) की कमी ने सरकार की चिंता और भी बढ़ा दी है। बुधवार को महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने अपने बयान में कहा था कि, “हमारे पास सिर्फ 2-3 दिनों की वैक्सीन बची है।” शिवसेना सांसद प्रियंका चतुर्वेदी ने केंद्र को पत्र लिख कर अधिक वैक्सीन देने की मांग की है। ऐसे में केंद्र की एक टीम मुंबई के बीकेसी में मौजूद शहर के सबसे प्रमुख वैक्सीनेशन सेंटर में से एक पहुंची है। बताया जा रहा है कि, ये टीम मुंबई और महाराष्ट्र में हालात का जाएज़ा लेगी।  

    वहीं महाराष्ट्र में कोरोना वैक्सीन की कमी की खबर के बीच, मुंबई से सटे पनवेल (Panvel) में महानगर पालिका ने एक बड़ा फैसला लेते हुए वैक्सीनेशन को ही बंद कर दिया है। इससे राज्य में लगातार बढ़ते कोरोना मामलों के दौरान सियासी पारा और भी गरमा गया है। वैसे बता दें कि, महाराष्ट्र में वैक्सीन की कमी की बात को केंद्र ने नकार दिया है।

     

    खबर है कि, पनवेल महानगर पालिका ने अपने बयान में यह भी कहा की जब तक वैक्सीन उपलब्ध नहीं होती है तब तक सभी सेंटर पूरी तरह से बंद रहेंगे। वैसे महाराष्ट्र में तो कोरोना पूरी तरह से बेकाबू हो गया है जिसके चलते उद्धव सरकार ने नियमों में सख्ती करते हुए मिनी लॉकडाउन लगाया है। भारत में कोरोना की रफ्तार के तेजी से बढ़ने के बीच वैक्सीन की कमी होना कई सारे सवाल खड़ा कर रहा है।