new-motera-stadium-4-dressing-rooms-led-lights-installed-to-eliminate-shadows-says-gca-secretary-patel

    अहमदाबाद: दुनिया के सबसे बड़े मोटेरा क्रिकेट स्टेडियम (Motera Cricket Stadium) का नाम बदल दिया गया है। अब यह ‘नरेंद्र मोदी स्टेडियम’ (Narendra Modi Cricket Stedium) के नाम से जाना जाएगा। बुधवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (Ramnath Kovind) ने इसका उद्घाटन किया। इसी के साथ 233 एकड़ में बनने वाले सरदार पटेल स्पोर्ट्स एन्क्लेव (Sardar Patel Sports Enclave) का भूमिपूजन भी किया। वहीं हॉकी के जादूगर मेजर ध्यानचंद के नाम से हॉकी स्टेडियम का भी भूमिपूजन किया गया। 

    गृह मंत्री अमित शाह ने किया ऐलान

    स्टेडियम के उदघाटन कार्यक्रम में गृहमंत्री अमित शाह ने ऐलान करते हुए कहा, “मोटेरा में सरदार वल्लभभाई पटेल स्पोर्ट्स एन्क्लेव और नरेंद्र मोदी स्टेडियम के साथ मिलकर, नारनपुरा में एक स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स भी बनाया जाएगा। ये 3 किसी भी अंतर्राष्ट्रीय खेल आयोजन की मेजबानी करने के लिए सुसज्जित होंगे। अहमदाबाद को अब भारत के ‘खेल शहर’ के रूप में जाना जाएगा।”

    उन्होंने कहा, “सीएम के रूप में, वे कहते थे कि गुजरातियों को 2 क्षेत्रों-खेलों और सशस्त्र बलों में भी प्रगति करनी चाहिए। उन्होंने मेरे अनुरोध पर GCA का कार्यभार संभाला और यहां खेलों को बढ़ावा दिया। उनका विजन था कि दुनिया का सबसे बड़ा क्रिकेट स्टेडियम यहां बनाया जाए। 1,32,000 सीटर वाले इस स्टेडियम को नरेंद्र मोदी स्टेडियम के नाम से जाना जाएगा।”

    भारत के लिए गर्व का क्षण 

    स्टेडियम का उदघाटन करने के बाद लोगों को संबोधित करते हुए कहा, “जब मैं नवंबर 2018 में ऑस्ट्रेलिया गया, तो मुझे पता चला कि 90,000 सीटर मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड दुनिया में सबसे बड़ा था। भारत के लिए आज गर्व का क्षण है कि मोटेरा का 1,32,000 सीटर स्टेडियम दुनिया का सबसे बड़ा क्रिकेट स्टेडियम बन गया है।”

    इंग्लैंड और भारत मैच पहला मैच आज

    भारत (India) और इंग्लैंड (England) के बीच स्टेडियम बनने के बाद पहला मैच खेला जाएगा। इस मैच के साथ ही स्टेडियम में अंतराष्ट्रीय मैच (Intrenation Cricket Match) की शुरुआत हो गई है। पिंक बॉल से खेले जाने वाला यह टेस्ट मैच डे नाईट मैच होगा। सीरीज  के आखरी  मैच यही खेले जाएंगे। चौथा मैच दिन में खेला जाएगा।

    एक लाख से ज्यादा लोग देख सकेंगे मैच

    दुनिया के सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडियम में एक लाख 10 हजार से ज्यादा लोग एक साथ बैठकर मैच देख सकते हैं। जो मेलबर्न स्टेडियम से ज्यादा है। यह स्टेडियम अहमदाबाद के साबरमती नदी के किनारे में बनाया गया है।

    दुनिया के सबसे बड़े स्टेडियम की ख़ासियत:

    • 63 एकड़ में फैला है, जिसमें तीन एंट्री गेट्स हैं।
    • स्टेडियम में तीन प्रैक्टिस ग्राउंड्स, क्लब हाउस, ओलंपिक साइज स्विमिंग पूल और एक इनडोर क्रिकेट एकेडमी भी बनाई गई है।
    • स्टेडियम का स्ट्रक्चर ऐसा है कि जब भी कोई खिलाड़ी बाउंड्री मारे तो स्टेडियम में बैठने वाला हर क्रिकेट प्रेमी उस बाउंड्री को देख पाए।
    • यह दुनिया में एकमात्र स्टेडियम है, जिसमें अभ्यास और सेंटर पिच के लिए एक ही मिट्टी का इस्तेमाल किया गया है। यहां बेहतर दृश्यता और परछाई को दूर करने के लिए पूरी गोलाकर छत पर एलईडी लाइट लगी है।’
    • दुनिया के सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडियम में 11 सेंटर पिचें हैं, यह दुनिया में एकमात्र स्टेडियम हैं।
    • यह दुनिया का पहला क्रिकेट स्टेडियम है जिसमें जिम सहित चार विश्वस्तरीय ड्रेसिंग रूम हैं।
    • इसके अलावा 25 लोगों की क्षमता वाले 76 कॉर्पोरेट बॉक्स बनाए गए हैं।
    • यहां मैदान में घास के नीचे रेत का इस्तेमाल किया गया है जिसकी मदद से भारी बारिश के बावजूद मैच कुछ ही घंटे में दोबारा से शुरू हो सकता है। 
    • कार और स्कूटर की पार्किंग व्यवस्था की गई है। जिसमें 4 हजार कार और 10 हजार दो पहिया वाहन की पार्किंग की व्यवस्था है।