Water level rises in Mithi river after incessant rains in Mumbai, 250 people were evacuated to a safe place
File

    मुंबई: मुंबई (Mumbai) और इसके उपनगरों में शुक्रवार सुबह से भारी बारिश (Rain) के कारण मीठी नदी (Mithi River) में जलस्तर (Water Level) बढ़ जाने से शहर के झुग्गी (Slum) बहुल इलाके के करीब 250 निवासियों को सुरक्षित जगह पहुंचाया गया। बारिश के कारण लोकल ट्रेन सेवा भी प्रभावित रही। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया, जलस्तर कम होने के बाद ये लोग फिर से अपने-अपने घरों को लौट गए।

    बृहन्मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) के एक अधिकारी ने बताया, ‘‘कुर्ला पश्चिम में झुग्गी बहुल इलाका क्रांति नगर में मीठी नदी के किनारे रहने वाले लोगों को सुबह नदी का जलस्तर खतरे के निशान चार मीटर के पास 3.7 मीटर पहुंच जाने के बाद सुरक्षित स्थान पहुंचाया गया।” मीठी नदी बोरीवली में संजय गांधी राष्ट्रीय उद्यान (एसजीएनपी) से शुरू होकर माहिम जलडमरूमध्य में अरब सागर में जाकर मिलती है। वर्ष 2005 में मुंबई में आई बाढ़ के दौरान मीठी नदी के आसपास के इलाके सबसे अधिक प्रभावित हुए थे और बचाव कार्य में मदद के लिए सेना को बुलाकर स्थानीय लोगों को सुरक्षित जगह पहुंचाया गया था। उस साल बाढ़ में सैकड़ों लोगों की जान गई थी।

    अधिकारी ने बताया कि लोगों को सुरक्षित जगह पहुंचाने के बाद थोड़ी देर के लिए बारिश थमी जिसके बाद मीठी नदी का जलस्तर 3.7 मीटर से दो मीटर पहुंच गया। इसके बाद सुरक्षित हटाए गए लोग अपने-अपने घरों को लौट गए। बीएमसी के अधिकारियों ने बताया कि शुक्रवार सुबह से हुई भारी बारिश के कारण मुंबई विशेषकर उपनगरीय इलाकों में जलजमाव हो गया। तड़के चार बजे से सुबह नौ बजे तक मुंबई में 55.3 मिमी बारिश हुई जबकि पूर्वी और पश्चिमी उपनगरों में क्रमश: 135 मिमी और 140.5 मिमी बारिश हुई।

    नगर निगम के एक अधिकारी ने बताया कि बीएमसी के एच-पूर्व प्रशासनिक वार्ड जिसमें बांद्रा पूर्व और खार पूर्व जैसे इलाके आते हैं, वहां सबसे अधिक 186.9 मिमी बारिश हुई। इसके बाद एम-वेस्ट जिसमें शिवाजी नगर, गोवंडी और कनखुर्द जैसे इलाके आते हैं, वहां इन पांच घंटों के दौरान 175.5 मिमी बारिश हुई। बारिश के कारण पूर्वी एवं पश्चिम उनगरों के कई निचले इलाकों में जलजमाव हो गया जिसके कारण मुख्य मार्गों पर यातायात बाधित हुआ। जलजमाव के कारण मध्य रेलवे की मुख्य लाइन में पड़ने वाली सायन और विद्याविहार खंड और हार्बर लाइन के चूनाभट्टी-टिकल नगर खंड पर उपनगरीय ट्रेन सेवाएं बुरी तरह प्रभावित रहीं।

    मध्य रेलवे के एक प्रवक्ता ने बताया कि दोनों ही लाइनों पर जलजमाव के कारण ट्रेन सेवाएं प्रभावित हुईं और ट्रेनों की लंबी लाइन लग गई। उन्होंने बताया, ‘‘इसके कारण उपनगरीय ट्रेन सेवाएं अपने समय से काफी देरी से चलीं और कुछ लंबी दूरी की ट्रेनें भी प्रभावित हुईं।” बहरहाल, भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने शहर और उपनगरों में मध्यम वर्षा और छिटपुट जगहों पर से भारी वर्षा का पूर्वानुमान जताया है। नगर निगम के अधिकारी ने बताया कि शुक्रवार को 4.08 मीटर से लेकर 4.26 मीटर तक हाई टाइड आ सकता है। महानगर में पीने के पानी का आपूर्ति करने वाले जलाशयों में से एक तुलसी झील में भारी बारिश के कारण जलस्तर में वृद्धि देखी गई।