Prime Minister Modi's address to UN will be very important: Tirumurti

भोपाल. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Narendra Modi) ने गरीबी हटाने के लिये देश के ग़रीबों को सशक्त करने का आह्वान किया तथा कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना (PMAY) का लक्ष्य ग़रीबों को सशक्त बनाना है। प्रधानमंत्री (Narendra Modi) शनिवार को PMAY योजना के तहत मध्यप्रदेश के ग्रामीण इलाकों में बने 1.75 लाख घरों के हितग्राहियों के गृह प्रवेश के ऑनलाइन कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे।

मोदी ने कहा, ‘‘गरीबी दूर करने के लिये हमें उन्हें (गरीबों को) सशक्त करना होगा और इस योजना का उद्देश्य ग़रीबों को सशक्त बनाना है।” उन्होंने इस मौके पर प्रदेश के तीन हितग्राही परिवारों से बातचीत की और उनकी खुशी को साझा करते हुए पूछा कि पक्का घर मिलने पर वह कैसा महसूस कर रहे हैं और उन्होंने अपने घर का निर्माण कैसे किया। आदिवासी बहूल जिले धार के अमझेरा प्रखंड के एक गांव के गुलाब सिंह के बेटे ने प्रधानमंत्री को आदिवासी इलाके में हलमा परंपरा का जिक्र किया, जिसमें गांव वाले साझा तौर पर श्रमदान करते हैं ।

सिंह ने बताया कि उन्होंने अपने घर का निर्माण गांव वालों के साथ मिलकर पूरा किया है। इससे मजदूरी के भुगतान में जो बचत हुई उसका उन्होंने घर में बेहतर सामान लगाने में खर्च किया । उसने बताया कि कोरोना के लॉकडाउन की वजह से बेरोज़गार हुए गांव के राजमिस्त्री और मज़दूरों ने इसमें काम किया है। उन्होंने बताया कि हलमा में प्रतिदिन 15-20 लोग शामिल होते थे और शाम को उन्हें भोजन कराया जाता था। सिंगरौली जिले के प्यारे लाल से बातचीत करते हुए मोदी ने कहा, ‘‘गरीबी दूर करने के लिये, ग़रीबों को मजबूत करना जरूरी है और इस योजना से उनमें आत्मविश्वास पैदा होगा और रोजमर्रा की दिक्कतों से परे रहकर वह कड़ी मेहनत के बाद अपने घर में शांति से सो सकेंगे।”

मोदी के सवाल कि क्या उन्हें कभी अपने पक्के घर के सपने का सच होने के बारे में सोचा था तो प्यारे लाल ने बताया कि उन्हें भरोसा था कि अन्य लोगों की तरह एक दिन उन्हें भी सरकार से अपना घर मिलेगा। प्यारेलाल ने प्रधानमंत्री के सवाल पर यह भी बताया कि उसने अपने घर के निर्माण में स्थानीय तौर पर उपलब्ध राख से बनी ईंटों का उपयोग किया है जो कि सस्ती और मजबूत हैं।

ग्वालियर जिले के भितरवार के पास एक गांव के रहने वाले नरेन्द्र नामदेव ने पत्नी के साथ ऑनलाइन चर्चा में प्रधानमंत्री मोदी की धारा 370 हटाने, तीन तलाक रद्द करने की नीति की प्रशंसा की तो मोदी ने मजाकिया लहजे में उनसे पूछ लिया, ‘‘ क्या आपका चुनाव लड़ने का इरादा तो नहीं है।” नामदेव ने बताया कि वह और उनकी पत्नी सिलाई का काम करते हैं और आजीविका मिशन योजना के तहत गांव के बच्चों के स्कूल का गणवेश सिलते हैं।

नामदेव की पत्नी ने घर, गैस और शौचालाय प्रदान करने के लिये प्रधानमंत्री को धन्यवाद दिया और आर्शीवाद देते हुए अपने घर आने के लिये आमंत्रित किया। इस पर प्रधानमंत्री ने कहा कि देश की माताओं और बहनों आर्शीवाद उनकी सबसे बड़ी पूँजी है।