Impose sewage charges on all houses in Delhi: Green Tribunal

नयी दिल्ली. राष्ट्रीय हरित अधिकरण (एनजीटी) ने गंगा नदी और अन्य नदियों में प्रदूषक तत्वों के प्रवेश को रोकने में विफल रहने को लेकर राष्ट्रीय स्वच्छ गंगा मिशन (एनएमसीजी) की खिंचाई की और कहा कि इसकी रिपोर्ट में कोई सार्थक कार्रवाई नहीं दिखाई गई है। एनजीटी ने कहा कि एनएमसीजी की रिपोर्ट में जल शक्ति मंत्रालय के अधिकारियों के दौरों और केवल कुछ बैठकों का हवाला दिया गया है। उन्होंने कहा, हालांकि कानून लागू करने और इसका उल्लंघन करने वालों के खिलाफ सख्त कदम उठाने को लेकर कोई विवरण नहीं दिया गया है। एनजीटी ने कहा कि कार्यान्वयन की समय सीमा अनिश्चित रूप से लंबी है जोकि उच्चतम न्यायालय के आदेशों और समस्या की गंभीरता का पूरी तरह उल्लंघन है।