एनडीए में पड़ी दरार, एलजेपी ने चिराग पासवान को बनाया मुख्यमंत्री का उम्मीदवार

पटना: चुनाव आयोग ने विधानसभा चुनावों का तरीकों का ऐलान कर दिया है. जिसके बाद से सभी राजनीतिक दलों ने अपनी तैयारियाँ शुरू कर दी है. राज्य में सात में बैठी एनडीए (NDA) में दरार पड़ती दिखाई देने लगी है. गठबंधन की घटक दल लोक जनशक्ति पार्टी (Lok Janshakti Party) ने चिराग पासवान (Chirag Paswan) को पार्टी का मुख्यमंत्री उम्मीदवार घोषित कर दिया है. मंगलवार को पार्टी महासचिव शाहनवाज़ अहमद कैफ़ी ने कहा, “चिराग पासवान निश्चित रूप से हमारी पार्टी के सीएम उम्मीदवार हैं, इसमें कोई संदेह नहीं है.” 

ज्ञात हो कि भाजपा ने पहले ही राज्य के अंदर नितीश कुमार की अगुवाई में आगामी विधानसभा चुनाव लड़ने का ऐलान कर चुकी है. चुनाव की तरीकों के घोषणा करने के बाद जनता दल यूनाइटेड (Janta Dal United) और भाजपा (BJP) के बीच सीटों के बटवारे को लेकर चर्चा शुरू है. मिली जानकरी के अनुसार दोनों दलों में सब तय हो गया है. वहीं 30 सितंबर को प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिए इसकी घोषणा की जा सकती है. 

एलजेपी से सीटों का मुद्दा तय नहीं हुआ 
एनडीए में बीजेपी और जेडीयू के बीच सब तय हो चुका है. लेकिन अभी तक गठबंधन में तीसरा सबसे बड़ा घटक दल एलजेपी के साथ सीटों को लेकर बात नहीं बन पाई है. पार्टी ने गठबंधन में रहने के विचार करने के लिए  और समय माँगा है. 

गौरतलब है कि चिराग पासवान राज्य में कोरोना वायरस और बाढ़ के मुद्दों को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का विरोध कर रहे है. पिछले दिनों उन्होंने जेडीयू के खिलाफ अपने उम्मीदवार उतरने का ऐलान भी कर चुके है. चिराग ने इसी को लेकर पार्टी की केंद्रीय कार्यकारिणी की बैठक बुलाई थी. जिसके पर एनडीए में बने रहने या नहीं रहने को लेकर चर्चा की गई थी.