मनसुख मंडाविया (Photo Credits-ANI Twitter)
मनसुख मंडाविया (Photo Credits-ANI Twitter)

    नई दिल्ली: देश में कोरोना संकट (Coronavirus Pandemic) के चलते मोदी सरकार (Modi Govt) लगातार विवादों में घिरी रही है। विपक्ष लगातार केंद्र पर सवाल उठाता रहा है। इस दौरान स्वास्थ व्यवस्था के इंतजाम को लेकर सरकार निशाने पर रही है। यानि केंद्र का स्वास्थ मंत्रालय चर्चा में रहा है। यही कारण है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने कैबिनेट विस्तार (Cabinet Expansion) के दौरान यहां बदलाव करते हुए नए चेहरे पर भरोसा जताया है।

    ज्ञात हो कि कोरोना के चलते सबसे अहम मंत्रालय के रूप में स्वास्थ मंत्रालय सामने आया है। लेकिन लगातार उठ रहे सवालों को ध्यान में रखकर पीएम मोदी ने डॉ. हर्षवर्धन को कैबिनेट से बाहर का रास्ता दिखा दिया है। कोरोना के चलते हेल्थ सिस्टम पर जिस तरह सवाल उठे उससे मोदी सरकार की छवि पर सीधा असर पड़ा है। अब मनसुख मंडाविया (Mansukh Mandaviya) को नए केंद्रीय स्वास्थ मंत्री बनाया गया है। 

    मनसुख मंडाविया ने स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री के रूप में कार्यभार संभाला-

    उल्लेखनीय है कि कोरोना संकट के दौरान ऑक्सीजन सप्लाई के मसले में मनसुख मंडाविया ने अहम भूमिका अदा की थी। उन्होंने देश के अलग-अलग हिस्सों में सप्लाई पर बहुत जोर डाला था। स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री के रूप में कार्यभार संभालने के बाद  मनसुख मंडाविया ने ट्वीट करते हुए लिखा कि आज मैंने देश के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के कैबिनेट मंत्री का पदभार ग्रहण किया। आदरणीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के स्वस्थ भारत के सपने को साकार करते हुए अथक जन सेवा के लिए कृतसंकल्पित हूँ।