CORONA

    नयी दिल्ली.  एक तरफ कोरोना (Corona) की दूसरी लहर का कहर अब कम होता दिख रहा है। वहीं अब इस भयंकर संक्रमण को लेकर हर दिन नए शोध और अध्ययन किया जा रहा है, ताकि कोरोना के बारे में ज्यादा से ज्यादा जानकारी मिल सके। लेकिन अब  WHO ने कहा कि दुनिया के 29 देशों में अब कोरोना का एक नया वेरिएंट मिला है, जिसका नाम ‘लैम्ब्डा’ (Lambda) है। 

    WHO ने इसकी जानकारी देते हुए बताया कि विशेष तौर पर कोरोना का यह नया वैरिएंट दक्षिण अमेरिका में मिला है, यहीं पर इसकी उत्पत्ति मानी जा रही है। अप्ब्ने साप्ताहिक अपडेट के तौर परWHO ने बताया कि कोरोना का ये नया वैरिएंट सर्वप्रथम पेरू में मिला, अब इस नए वैरिएंट ‘लैम्ब्डा’ को दक्षिण अमेरिका में उन्नत प्रसार के कारण वैश्विक रूचि के रूप में भी वर्गीकृत किया गया है। 

    इस मुद्दे पर पेरू के स्वाथ्य अधिकारियों ने जानकारी देते हुए कहा कि बीते अप्रैल 2021 से लेकर अब तक 81% संक्रमित मामलों में यही वैरिएंट मिला है। वहीं चिली में बीते  60 दिनों में दर्ज किए गए मामलों के 32% केसों में यही कोरोना का नया वैरिएंट पाया गया। इसके अलावा अर्जेंटीना और इक्वाडोर में भी कोरोना के इस नए नए वैरिएंट के कई मामले मिले हैं। 

    इस मुद्दे पर WHO ने जानकारी देते हुए कहा कि ‘लैम्ब्डा’ वंश में उत्परिवर्तन होता है, जो संक्रमण क्षमता को भी बढ़ा सकता है या एंटीबॉडी के लिए वायरस के प्रतिरोध को बहुत मजबूत कर सकता है। हालांकि WHO का यह भी कहना है कि इस बात के सबूत फिलहाल अभी बहुत ही सीमित हैं। फिलहाल ‘लैम्ब्डा’ को समझने के लिए और रिसर्च की जरूरत है। गौरतलब है कि विश्व में अब तक कोरोना के डेल्टा वैरिएंट ने ही सबसे ज्यादा कोहराम मचाया है। इस जानलेवा वैरिएंट के चलते लाखों लोगों की मौत हुई है।