निर्भया के दोषी विनय शर्मा ने फांसी से बचने के लिए चली नई चाल

नई दिल्ली. निर्भया गैंगरेप और ह्त्याकांड के दोषी विनय शर्मा ने फांसी से बचने के लिए नई चाल चली है। उसने सोमवार को अपने वकील वकील एपी सिंह द्वारा फांसी की सजा को उम्रकैद में तब्दील करने के लिए

नई दिल्ली. निर्भया गैंगरेप और ह्त्याकांड के दोषी विनय शर्मा ने फांसी से बचने के लिए नई चाल चली है। उसने सोमवार को अपने वकील वकील एपी सिंह द्वारा फांसी की सजा को उम्रकैद में तब्दील करने के लिए उपराज्यपाल अनिल बैजल से गुहार लगाई हैं।

बतादें दिल्ली की पटियाला कोर्ट ने सभी चारों दोषी विनय, पवन, मुकेश और अक्षयके खिलाफ चौथी बार डेथ वारंट जारी किया हैं। जिसके मुताबिक सभी दोषियों को 20 मार्च को सुबह 5:30 बजे फांसी दी जानी है।

इस मामले में दोषी विनय शर्मा के वकील एपी सिंह ने कहा कि, उन्होंने यह याचिका दण्ड प्रक्रिया संहिता (CrPC) के सेक्शन 432 और 433 के तहत भेजी हैं। इस सेक्शन के तहत उपराज्यपाल को फांसी की सजा को उम्रकैद में बदलने का अधिकार प्राप्त है।

याद दिला दें कि दिसंबर 2012 में निर्भया और उसका एक दोस्त एक बस में सवार हुए थे। उस बस में निर्भया से छह लोगों ने सामूहिक दुष्कर्म किया और बाद में निर्भया और उसके दोस्त को चलती बस से नीचे फेंक दिया था। इस घटना में निर्भया की सिंगापुर में इलाज के दौरान मौत हो गई थी।