Asteroid-af8
Representational Image

    1 जून (1 June) को धरती (Earth) के लिए अंतरिक्ष (Space) से खतरा  बढ़ता नजर आ रहा है। धरती पर  एक एस्टरॉयड (Asteroid) तेज गति से गुजरने वाला है। जो धरती के लिए खतनाक साबित हो सकता है। इस एस्टरॉयड का नाम 2021KT1 है। अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा (NASA) के मुताबिक यह एस्टरॉयड दो दिन बाद  धरती के पास से गुजरेगा। नासा ने इसे ‘खतरनाक’ श्रेणी में रखा है। इस बात पर नासा ने आकलन कर पता लगाया कि यह विशालकाय एस्टरॉयड से धरती को खतरा नहीं है। यह एस्टरॉयड धरती से दूरी से गुजरेगा। अंतरिक्ष एजेंसी ( Space Agency) किसी भी चीज की विशालता और धरती से दूरी के आधार पर उसके खतरे का आकलन किया जाता है।   

    एस्टरॉयड की रफ्तार

    इस एस्टरॉयड की गति एक बंदूक की  गोली से 20 गुना ज्यादा है। नासा की रिपोर्ट के मुताबिक, यह धरती के पास से यह करीब 65,000 किलोमीटर की गति से गुजरेगा।

    धरती से एस्टरॉयड की दूरी 

    एक जून को यह धरती के पास से गुजरेगा. इसका व्यास 150 मीटर-330 मीटर है. यह आकार तीन फुटबॉल मैदान के बरारब है. अभी तक नासा ने जो आकलन किया है, उसके मुताबिक यह धरती से 72 लाख किलोमीटर की दूरी से निकल जाएगा. इसलिए खतरा नहीं है क्योंकि यह दूरी धरती और चांद के बीच की दूरी से 19 गुना ज्यादा है। 

    इस एस्टरॉयड से धरती को खतरा 

    ब्रह्मांड में आए दिन एस्टरॉयड धरती के पास से गुजरते रहते हैं।  इनमें से कई तो इतने विशालकाय होते हैं कि अगर धरती से टकरा जाए तो भारी तबाही हो सकती है। अंतरिक्ष एजेंसियां कई पैमानों की समीक्षा करने के बाद इस नतीजे पर पहुंचते हैं कि यह खतरनाक है या नहीं, अगर किसी चीज के 46.5 लाख मील से करीब आने की संभावना होती है, तो इसे खतरनाक माना जाता है।  NASA का Sentry सिस्टम इस तरह की गतिविधियों पर नजर बनाए रखता है।  हालांकि 100 साल में अभी तक मुश्किल से 22 ही ऐसे एस्टरॉयड हैं, जिनके धरती से टकराने की संभावना थी।