army

जम्मू. पाकिस्तानी (Pakistan) बलों ने जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) के पुंछ जिले में नियंत्रण रेखा (LOC) के पास अग्रिम इलाकों में भारी गोलीबारी करके और मोर्टार के गोले दागकर संघर्षविराम समझौते का उल्लंघन किया, जिसमें सेना का एक जवान शहीद हो गया और एक अन्य घायल हो गया।

एक रक्षा प्रवक्ता ने बृहस्पतिवार को बताया कि पाकिस्तान की सेना ने मनकोट एवं कृष्णा घाटी सेक्टरों में नियंत्रण रेखा के पास छोटे हथियारों से गोलीबारी कर और मोर्टार के गोले दागकर बुधवार रात को बिना किसी उकसावे के संघर्षविराम समझौते का उल्लंघन किया। उन्होंने बताया कि भारतीय सेना ने भी इसका मुंहतोड़ जवाब दिया। प्रवक्ता ने बताया कि सीमा पार से गोलीबारी में लांस नायक करनैल सिंह शहीद हो गए। उन्होंने कहा, ‘‘व्हाइट नाइट कोर के जनरल ऑफिसर कमांडिंग एवं सभी रैंक के अधिकारी पुंछ जिले के कृष्णा घाटी सेक्टर में 30 सितंबर की रात को सर्वोच्च बलिदान देने वाले बहादुर लांस नायक करनैल सिंह को सलाम करते हैं और उनके परिवार के प्रति संवेदना प्रकट करते हैं।”

खबरों के अनुसार, कृष्णा घाटी सेक्टर में गोलीबारी में एक अन्य जवान घायल हो गया और उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पाकिस्तान पिछले पांच दिन से पुंछ में बस्तियों को निशाना बना रहा है। गोलेबारी में मंगलवार को कई जानवर घायल हो गए थे। पाकिस्तान ने सितंबर में 47 बार संघर्षविराम समझौते का उल्लंघन किया। अधिकारियों ने बताया कि पाकिस्तानी बलों ने पांच सितंबर को राजौरी जिले के सुंदरबनी सेक्टर में नियंत्रण रेखा के पास भारी गोलीबारी की थी और मोर्टार के गोले दागे थे। इस दौरान सेना का एक जवान शहीद हो गया था और एक अधिकारी समेत दो जवान घायल हो गए थे। इससे पहले राजौरी के केरी सेक्टर में भी पाकिस्तानी सेना ने दो सितंबर को संघर्षविराम समझौते का उल्लंघन किया था और इस दौरान एक जेसीओ शहीद हो गया था।