puri

    नयी दिल्ली. जहाँ एक तरफ कोरोना (Corona) की दूसरी लहर ने पुरे देश की दशा बिगाड़ रखी है। वहीं दूसरी तरफ बढ़ते पेट्रोल डीजल (Petrol-Diesel) के दामों ने आम जनता के जेब की सेहत बिगाड़ दी है। जहाँ पेट्रोल की कीमत फिलहाल सौ के पार हो गयी है। यह भी पता हो कि जब मोदी मंत्रिमंडल में फेरबदल और विस्तार हो रहा था, उस वक्त तक भी पेट्रोल चार महानगरों में सेंचुरी लगा रहा था।    

    इधर नए पेट्रोलियम मंत्री के तौर पर हरदीप सिंह पुरी (Hardeep Singh Puri) के पदभार संभालने के बाद आज पेट्रोल और डीजल की कीमतों में फिलहाल कोई फेरबदल नहीं हुआ है। हालांकि, इसके बावजूद कीमतों के लगातार बढ़ने के कारण पेट्रोल-डीजल के भाव अब भी अपनी ऐतिहासिक ऊंचाई पर हैं। ईंधन की कीमत स्थिर रहने के बाद आज दिल्ली में पेट्रोल 100.56 रुपये प्रति लीटर और डीजल 89.    62 रुपए प्रति लीटर बिक रहा है। हालाँकि आधे से ज्यादा देश में पहले ही पेट्रोल 100 रुपए का आंकड़ा पार कर चूका है। वहीं मुंबई में इसकी कीमत फिलहाल 106.59 रुपए/लीटर है।इसके साथ ही मुंबई में डीजल की कीमत 97.18 रुपए प्रति लीटर है।   

    क्या हैं आज के रेट:  

    शहर

    पेट्रोल

     

    डीजल

    दिल्ली

    100.56

    89.62

    मुंबई

    106.59

    97.18

    कोलकाता

    100.62

    92.65

    चेन्नई

    101.37

    94.15

     

    बोले नए पेट्रोलियम मंत्री हरदीप सिंह पुरी- थोड़ा वक्त दें

    पता हो कि पेट्रोलियम मंत्रालय को अब उनका नया सरताज मिला है, जी हाँ हरदीपपुरी पुरी अब नया पद संभालेंगे।जबकि धर्मेंद्र कहीं और नजर आने वाले हैं।लेकिन देश को इधर नया पेट्रोलियम मंत्री मिला है और उधर विरोधी पार्टियों के विरोध प्रदर्शनों का सिलसिला भी शुरू हो गया।एक तरफ कांग्रेस का प्रदर्शन हो रहा है तो वहीं अब किसान भी पेट्रोलियम उत्पादों की कीमत के बढ़ने के विरोध में एक बार फिर सड़क पर उतर आए हैं।अमृतसर, मोहाली, गाजियाबाद, नोएडा हर जगह अन्नदाता सड़क पर उतर कर बढ़ी कीमतों का विरोध कर रहा है।    

    अब इन सबके बीच विपक्ष ने भी अपना हमला तेज कर दिया है, क्योंकि मामला जो सीधे जनता के दर्द से जुड़ा है।इसी क्रम में बंगाल CM ममता बनर्जी का कहना था कि मन की बात में पेट्रोल, डीजल, PM केयर फंड की बात भी प्रधानमंत्री किया करें। वहीं नए तेल मंत्री ने हरदीप सिंह पुरी ने कहा कि, “मुझे थोड़ा वक्त दीजिए मैं समझकर आपसे बात करुंगा।”  अब कीमतों का गणित समझने के लिए नए पेट्रोलियम मंत्री जनता से थोड़े थोड़े वक्त की मांग रख रहे है।लेकिन जनता का भी नए पेट्रोलियम मंत्री से आग्रह है कि, अब थोडा तो हमारी जेब का ध्यान रखा जाए और इन बढ़ते दामों के चलते जनता का जो तेल निकल रहा है, उसमे भी थोड़ी बहुत राहत हो।