कांग्रेस ने पीएम केयर पर उठाए सवाल, अनुराग ठाकुर ने कहा- कांग्रेस की नीयत में खोट

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री पीएम केयर्स (PM Cares Fund)को लेकर शुक्रवार को लोकसभा में चर्चा के दौरान कांग्रेस (Congress) और भाजपा (BJP) के नेता आपस में भीड़ गए. कांग्रेस ने फंड पर सवाल उठाते हुए इसे कानून के तहत बनाने को कहा. जिसपर जवाब देते केंद्रीय राज्यमंत्री अनुराग ठाकुर ( Anurag Thakur) ने कहा, “कांग्रेस को हर चीज में खामी दिखती है, असल में उनकी नियत में खोट है. इसी के साथ ठाकुर ने जवाहर लाल नेहरू (Jawaharlal Nehru) द्वारा बनाए प्रधानमंत्री राहत कोष (National Relief Fund) पर सवाल उठाया. 

दरअसल, कांग्रेस सांसद मनीष तिवारी (Manish Tiwari) ने कहा, “चूंकि पीएम केयर्स फंड का नाम प्रधानमंत्री की संस्था से जुड़ा हुआ है, इसलिए यह अधिक उपयुक्त नहीं होगा यदि यह फंड सार्वजनिक विश्वास के बजाय कानून के माध्यम से बनाया गया होता.”

जिसपर पलटवार करते हुए वित्त राज्य मंत्री ठाकुर ने कहा, “पीएम कैरेज फंड का विरोध, सिर्फ इस लिए कि वे ईवीएम का विरोध कर रहे हैं और फिर कई चुनाव हार गए. उन्होंने बाद में जन धन, विमुद्रीकरण, ट्रिपल तालक (Tripple Talak) और जीएसटी (GST) को बुरा बताया. उन्हें हर चीज में खामी नजर आती है, सच्चाई ये है कि उनकी नियत में खोट है.”

उन्होंने आगे कहा, ” नेहरू जी ने 1948 में एक शाही आदेश की तरह प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष बनाने का आदेश दिया था लेकिन उसका पंजीकरण आज तक भी नहीं हो पाया है. FCRA की मंजूरी कैसे मिली?.”

PM-CARES फंड एक पब्लिक ट्रस्ट  
केंद्रीय राज्यमंत्री ने कहा, “PM-CARES फंड एक सार्वजनिक पब्लिक ट्रस्ट है, जिसे भारत के लोगों के लिए स्थापित किया गया है. आप (विपक्ष) ने गांधी परिवार के लिए विश्वास पैदा किया. नेहरू और सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) पीएम के राष्ट्रीय राहत कोष के सदस्य रहे हैं. इस पर एक बहस होनी चाहिए.” 

लोकसभा की कार्यवाही चार बार स्थगित