pm-modi-assam-west-bengal-visit-netaji-subhash-chandra-bose-mamata-banerjee-amit-shah | PM मोदी ने कहा- नेताजी के सपनों का भारत बनाना है | Navabharat (नवभारत)
ट्रेंडिंग टॉपिक्स
ब्रैकिंग न्यूज़
लाईव ब्लॉग
अंतिम अपडेटJanuary, 23 2021

PM मोदी ने कहा- नेताजी के सपनों का भारत बनाना है

ऑटो अपडेट
द्वारा- Rahul Goswami
कंटेन्ट राइटर
द्वारा- Ravi Shukla
कॉन्टेंट राइटर 
18:44 PMJan 23, 2021

दुनिया भारत के शक्तिशाली अवतार को देख रही

पीएम मोदी ने कहा, "LAC से LOC तक, दुनिया भारत के शक्तिशाली अवतार को देख रही है जो कभी नेताजी द्वारा कल्पना की गई थी। भारत आज जहाँ भी अपनी संप्रभुता को चुनौती देने का प्रयास कर रहा है, वह मुंह तोड़ जवाब दे रहा है."

18:03 PMJan 23, 2021

एकजुट होकर समस्याओं को हल निकाले

पीएम मोदी ने कहा, "नेताजी सुभाष चंद्र बोस देश की सबसे बड़ी समस्याओं में से गरीबी, अशिक्षा, बीमारी की गिनती करते थे। अगर समाज एकजुट हो जाए तो इन समस्याओं को हल किया जा सकता है।"

 

17:46 PMJan 23, 2021

नेताजी के भारत आज दुनिया के दूसरे देशों की मदद भी कर रहा

आज अगर नेताजी देखते कि उनका भारत इतनी बड़ी महामारी से इतनी ताकत के साथ लड़ा है। आज उनका भारत वैक्सीन जैसे आधुनिक वैज्ञानिक समाधान खुद तैयार कर रहा है, तो वो क्या सोचते, जब वो देखते कि भारत वैक्सीन देकर दुनिया के दूसरे देशों की मदद भी कर रहा है तो उनको कितना गर्व होता: PM मोदी

17:41 PMJan 23, 2021

नेताजी के योगदान को पीढ़ी दर पीढ़ी याद किया जाए

मुख्यमंत्री ने कहा, "हम सब का कर्तव्य है कि नेताजी के योगदान को पीढ़ी दर पीढ़ी याद किया जाए। इसलिए देश ने तय किया है कि नेताजी की 125वीं जयंती के वर्ष को ऐतिहासिक अभूतपूर्व भव्य आयोजनों के साथ मनाएंगे।" उन्होंने आगे कहा, "देश ने ये तय किया है कि अब हर साल हम नेताजी की जयंती (23 जनवरी) को पराक्रम दिवस के रूप में मनाया करेंगे।"

17:23 PMJan 23, 2021

नेताजी के चरणों में शीश झुकाता हूं

मैं आज नेताजी सुभाष चंद्र बोस के चरणों में शीश झुकाता हूं, उन्हें नमन करता हूं और नमन करता हूं उस मां को जिन्होंने नेताजी को जन्म दिया: PM मोदी 

17:22 PMJan 23, 2021

प्रधानमंत्री मोदी का भाषण हुआ शुरू

कोलकाता के विक्टोरिया मेमोरियल में आयोजित कार्यक्रम में बोलते हुए PM मोदी ने कहा, "आज कोलकाता में आना मेरे लिए बहुत भावूक करने वाला पल है। बचपन से जब भी ये नाम सुना- नेताजी सुभाष चंद्र बोस मैं किसी भी स्थिति में रहा, ये नाम कान में पड़ते ही एक नई ऊर्जा से भर गया।"

17:15 PMJan 23, 2021

डाक टिकट जारी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जयंती के अवसर पर स्मारक डाक टिकट जारी किया.

17:12 PMJan 23, 2021

बैनर्जी ने मंच से बोलने से किया इनकार

मुख्यमंत्री ममता बैनर्जी ने मंच से बोलने से किया इनकार. इसी के साथ उन्होंने लोगों से कहा, "किसी को बुलाकर ऐसा अपमान करना ठीक नहीं." दरअसल, ममता बैनर्जी जैसे ही बोलने के लिए खडी हुई सामने बैठे लोगों ने भारत माता की जय और जय श्री राम का नारा लगाने लगे इससे ममता नाराज होकर चली गई.

16:30 PMJan 23, 2021

PM मोदी पहुंचे विक्टोरिया मेमोरियल

कोलकाता के विक्टोरिया मेमोरियल में पीएम नरेंद्र मोदी। सीएम ममता बनर्जी और राज्यपाल जगदीप धनखड़ भी मौजूद हैं।उन्होंने नेताजी सुभाष चंद्र बोस की तस्वीर पर पुष्प अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि दी।

16:29 PMJan 23, 2021

पीएम मोदी ने कर्मचारियों से की बात

पीएम नरेंद्र मोदी कोलकाता में नेशनल लाइब्रेरी में कलाकारों और प्रतिनिधियों के साथ बातचीत की है।

Load More

कोलकाता. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Narendra Modi) स्वतंत्रता सेनानी नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती पर यहां आयोजित ‘‘पराक्रम दिवस” (Parakram Divas) समारोह में भाग लेने के लिए शनिवार को पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता पहुंचे। इससे पहले प्रधानमंत्री ने असम के शिवसागर जिले में स्थित जेरेंगा पठार के मूल निवासी और भूमिहीन परिवारों के लिए 1.6 लाख भूमि पट्टा आवंटन अभियान की शुरुआत की।

प्रधानमंत्री कार्यालय ने ट्वीट कर बताया कि मोदी ‘‘पराक्रम दिवस” पर आयोजित कार्यक्रमों में भाग लेने कोलकाता पहुंच गए हैं। सबसे पहले प्रधानमंत्री नेताजी भवन जाएंगे। इसके बाद वह नेशनल लाइब्रेरी का भी दौरा करेंगे। वहां ‘‘21वीं सदी में नेताजी की विरासत का पुन:अवलोकन” विषय पर एक अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन आयोजित किया गया है। वहां कलाकारों की ओर से एक प्रदर्शनी भी लगाई गई है। प्रधानमंत्री कलाकारों और सम्मेलन में भाग लेने वाले प्रतिभागियों से संवाद करेंगे।

नेताजी के जीवन पर आधारित एक स्थायी प्रदर्शनी और एक ‘‘प्रोजेक्शन मैपिंग शो” का भी वह उद्घाटन करेंगे। प्रधानमंत्री मोदी नेताजी की याद में एक स्मारक सिक्का और डाक टिकट भी जारी करेंगे। कोलकाता के विक्टोरिया मेमोरियल में ‘‘पराक्रम दिवस” समारोह के उद्घाटन कार्यक्रम की वह अध्यक्षता करेंगे। सरकार ने पिछले दिनों नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती को ”पराक्रम दिवस” के तौर पर मनाने का निर्णय किया। गौरतलब है कि नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125वीं जयंती मनाने के लिए सरकार ने प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में 85 सदस्यीय एक उच्च स्तरीय समिति का गठन किया है जो साल भर के कार्यक्रमों की रूपरेखा तैयार करेगी। 

 

OK

We use cookies on our website to provide you with the best possible user experience. By continuing to use our website or services, you agree to their use.   More Information.