सिर्फ 55 रुपये महीना जमा कराएं, 36 हजार रुपये पेंशन पाएं, जानें क्या है मोदी की यह स्कीम ?

    नई दिल्ली. सभी को अपने आने वाले कल की चिंता होती है। खास कर कमजोर वर्ग के लोग बुढ़ापे के लिए अभी से पैसा जोड़ने लगते हैं। ज्यादातर लोग इस बात से परेशान होते हैं कि, भविष्य को आर्थिक रूप से सुरक्षित बनाने के लिए पैसा कहा लगाना चाहिए? केंद्र सरकार ने इसी परेशानी को दूर करने के लिए कई पेंशन (Pension Scheme) योजनाओं की शुरुआत की हैं, जिनका लाभ उठाकर आपको भविष्य में पैसे की कमी नहीं होगी।  

    इन पेंशन योजनाओं में सबसे खास प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना (PM-SYM) है। मोदी सरकार की यह पेंशन स्कीम असंगठित क्षेत्र के लोगों के लिए है, जिन्हें 36 हजार रुपये पेंशन दी जाएगी। 18 से 40 साल की उम्र के लोग इस स्कीम का फायदा ले सकते हैं और योजना में प्रीमियम का अमाउंट उम्र के आधार पर निर्धारित होता है। बता दें कि, 36 हजार रुपये  सालान मिलने वाली पेंशन हर महीने 3000 रुपये के हिसाब से दी जाएगी। 36 राज्य और केंद्र शासित प्रदेश इस योजना का लाभ ले सकते हैं। इसके लिए 3.52 लाख कॉमन सर्विस सेंटर बनाए गए हैं। 

    ऐसे लें योजना का लाभ

    आपको इस योजना के लाभ के लिए किसी भी जन सेवा केंद्र में जाकर अपना PM-SYM खाता खुलवाना होगा। इसके लिए आपके पास आधार कार्ड और बैंक पासबुक और अन्य दस्तावेज होना जरूरी है। पीएम श्रम योगी मानधन योजना में खाता खुल जाने के बाद आवेदक के लिए श्रम योगी कार्ड (Shram Yogi Card) भी जारी किया जाता है।   

    जानें योजना में निवेश की प्रक्रिया

    आप इस योजना के तहत 55 रुपये से लेकर 200 रुपये तक जमा करा सकते हैं। 18 वर्ष के आवेदक को 55 रुपये, 30 वर्ष के आवेदक को 100 रुपये, 40 वर्ष की आयु के आवेदक 200 रुपये, हर महीने निवेश करने होंगे। 18 वर्ष से योजना में निवेश शुरू करने वाले आवेदक को 42 वर्ष की आयु तक योजना में निवेश करना होगा। 60 साल की आयु तक आवेदक को पीएम श्रम योगी मानधन योजना में 27,720 रुपये निवेश करने होंगे। इस योजना के लाभार्थियों को 60 साल की आयु के बाद हर माह 3,000 रुपये पेंशन प्रदान की जाएगी।