MEA Spokesperson Arindam Bagchi

    नयी दिल्ली. भारत ने बृहस्पतिवार को कहा कि कोविड-19 रोधी टीके का निर्यात भारत की घरेलू जरूरतों पर निर्भर करता है और अभी उसकी प्राथमिकता भारत निर्मित खुराक का अपने टीकाकरण अभियान के लिये उपयोग करना है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने डिजिटल माध्यम से प्रेस वार्ता में संवाददाताओं से यह बात कही । उनसे बांग्लादेश को टीके के संभावित निर्यात के बारे में मीडिया में आई खबरों के बारे में पूछा गया था।

    उन्होंने कहा, ‘‘टीके के निर्यात के बारे हमारा रूख सतत और स्पष्ट है। हमने हमेशा यह कहा है कि कोविड-19 रोधी टीके का निर्यात टीके की उपलब्धता और भारत की घरेलू जरूरतों पर निर्भर करता है।”

    बागची ने कहा, ‘‘अभी हमारी प्राथमिकता भारत निर्मित खुराक का अपने टीकाकरण अभियान के लिये उपयोग करना है जिसके बारे में आपको मालूम है कि टीकाकरण के नये चरण की शुरूआत इस सप्ताह 21 जून को हुई है।”

    यह पूछे जाने पर फाइजर टीका कब उपलब्ध होगा, उन्होंने कहा कि सरकार टीके की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिये हर प्रयास कर रही है, चाहे घरेलू उत्पादन के जरिये हो या आयात के माध्यम से हो। एक अन्य सवाल के जवाब में बागची ने कहा कि भारत ने विश्व के अन्य देशों के टीकाकरण अभियान के लिये कोविन मोबाइल ऐप की जानकारी साझा करने के लिये एक कार्यक्रम की पेशकश की है । (एजेंसी)