प्रियंका गांधी और मुख्तार अब्बास नकवी (Photo Credits-Facebook/ANI Twitter)
प्रियंका गांधी और मुख्तार अब्बास नकवी (Photo Credits-Facebook/ANI Twitter)

    नई दिल्ली: देश में कोरोना का कहर थमने का नहीं ले रहा है। कोरोना सहित तमाम मसलों को लेकर केंद्र के खिलाफ कांग्रेस ने मोर्चा खोला हुआ है। कांग्रेस की तरफ से राहुल गांधी, प्रियंका गांधी वाड्रा ने मोर्चा संभाला हुआ है। इसी बीच प्रियंका गांधी ने एक बार फिर केंद्र और पीएम मोदी पर बड़ा हमला बोला है। प्रियंका ने कहा कि हर जगह से लोगों के रोने की आवाज आ रही है लेकिन ये चुनावी रैलियों में जाकर हंस रहे हैं। प्रियंका के इस बयान पर अब बीजेपी हमलावर हो गई है। बीजेपी की तरफ से मुख्तार अब्बास नकवी और संबित पात्रा ने पलटवार किया है।  

    प्रियंका गांधी के आरोपों पर केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि कोरोना का इलाज हो सकता है, कांग्रेस का इलाज नहीं है। उनका रचनात्मक सुझाव आया था कि हाहाकार मचा हुआ है, लोगों की चिंता नहीं है, एक साल में प्रधानमंत्री ने कुछ नहीं किया। क्या ये सारी चीजें आकाश से टपक कर आई हैं? इस पार्टी का इतना गैरजिम्मेदाराना व्यवहार कभी नहीं देखा। इनकी पार्टी में बहुत नेता रहे हैं लेकिन कभी ऐसा नहीं हुआ। हम भी विपक्ष में रहे हैं, लेकिन कभी ऐसा व्यवहार नहीं किया। ये भ्रम के स्कोर में लगे हुए हैं। 

    वहीं संबित पात्रा ने कहा कि जब राजनीति नहीं होनी चाहिए तब कांग्रेस पार्टी और खासतौर पर गांधी परिवार राजनीति कर रहा है। प्रियंका गांधी ने एक इंटरव्यू में जिस प्रकार से आलोचना की है, वह देश देख रहा है। देश उनको जवाब देगा। गांधी परिवार का घमंड इस आपदा के समय देश  के सामने झलक रहा है।