Priyanka Gandhi and Mayawati

नयी दिल्ली. कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर तनाव के मामले में केंद्र सरकार का समर्थन करने को लेकर बसपा प्रमुख मायावती पर सोमवार को निशाना साधा और कहा कि वह पहले ही कह चुकी हैं कि कुछ विपक्षी नेता भाजपा के ‘अघोषित प्रवक्ता’ बन गए हैं।

मायावती के ताजा बयान को लेकर प्रियंका ने ट्वीट किया, ‘‘ मैंने कहा था कि कुछ विपक्ष के नेता भाजपा के अघोषित प्रवक्ता बन गए हैं, जो मेरी समझ से परे है।” कांग्रेस की उत्तर प्रदेश प्रभारी ने कहा, ‘‘इस समय किसी राजनीतिक दल के साथ खड़े होने का कोई मतलब नहीं है। हर हिंदुस्तानी को हिंदुस्तान के साथ खड़ा होना होगा, हमारी सरजमीं की अखंडता के साथ खड़ा होना होगा।” उन्होंने कहा, ‘‘जो सरकार देश की सरज़मीं को गँवा डाले, उस सरकार के ख़िलाफ़ लड़ने की हिम्मत बनानी पड़ेगी।”

गौरतलब है कि बसपा प्रमुख मायावती ने लद्दाख में भारत और चीन के बीच चल रहे गतिरोध के बीच सोमवार को कहा कि उनकी पार्टी रक्षा एवं सुरक्षा से जुड़े मुद्दे पर हमेशा केंद्र सरकार के साथ खड़ी हुई है, चाहे किसी भी दल की सरकार रही हो। उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री ने प्रियंका के उस बयान का परोक्ष रूप से हवाला देते हुए कांग्रेस पर प्रहार भी किया जिसमें कांग्रेस महासचिव ने इशारो-इशारों में बसपा को भाजपा का ‘अघोषित प्रवक्ता’ कहा था। उन्होंने कहा कि कांग्रेस एवं अन्य पार्टियां समय-समय पर अपने स्वार्थ के हिसाब से बसपा पर इस तरह के गलत आरोप लगाती रही हैं। (एजेंसी)