कृषि अध्यादेश के खिलाफ जींद में प्रदर्शनकारियों ने 15 स्थानों पर लगाया जाम

जींद: केंद्र द्वारा कृषि से जुड़े तीन अध्यादेश लाए जाने के खिलाफ जींद जिले में भारतीय किसान यूनियन (भाकियू), आढ़ती व अन्य संगठनों ने रविवार को 15 स्थानों पर राष्ट्रीय राजमार्ग और राज्य मार्ग को बाधित किया। प्रदर्शन के चलते जींद-रोहतक, जींद-पटियाला, जींद-कैथल, जींद-करनाल, जींद-सफीदों, असंध-पानीपत, जींद-हिसार मार्ग तीन घंटे तक बाधित रहे।

अध्यादेशों का विरोध कर रहे प्रदर्शनकारियों ने सड़क पर बैठकर धरना दिया और सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। इसकी वजह से वाहन चालकों और यात्रियों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा। हालांकि, भाकियू के आह्वान पर लगाए गए जाम के चलते पुलिस बल सतर्क रहा और जिन स्थानों पर रास्ते बाधित किए गए थे उनसे कुछ दूरी पर पुलिस कर्मियों की तैनाती की गई थी।

उधर, सफीदों के खानसर चौंक पर किसानों ने काले झंडे लेकर धरना दिया। तीन बजे के बाद 25 सितंबर को भारत बंद का आह्वान करते हुए जाम को खोला गया। किसानों के प्रदर्शन के मद्देनजर सुरक्षा के लिए जिले में आठ पुलिस उपाधीक्षक, 22 निरीक्षक और करीब 800 पुलिस कर्मी तैनात किए गए थे। दो एएसपी पूरे हालात पर नजर रखे हुए थे।

एएसपी अजित सिंह शेखावत ने बताया कि रास्ता जाम करने के आह्वान को देखते हुए कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए जिला प्रशासन ने पुख्ता इंतजाम किए थे। उन्होंने कहा कि वाहन चालकों को दिक्कत न हो, इसलिए वैकल्पिक रास्ते बनाए गए थे। शेखावत ने बताया कि तीन बजे सभी रास्तों को खोल दिया गया। सड़क जाम करने के मामले में नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी।