शाहीन बाग़: प्रदर्शनकारियों ने खोला रास्ता

नई दिल्ली: नागरिकता कानून के विरोध में पिछले दो महीने से बंद शाहीन बाग़ का रास्ता आखिर शनिवार को खुल गया. प्रदर्शनकारियों ने उत्तर प्रदेश के नोएडा से दिल्ली को जोड़ने वाले रोड के एक तरफ़ का रास्ता खोल

नई दिल्ली: नागरिकता कानून के विरोध में पिछले दो महीने से बंद शाहीन बाग़ का रास्ता आखिर शनिवार को खुल गया. प्रदर्शनकारियों ने उत्तर प्रदेश के नोएडा से दिल्ली को जोड़ने वाले रोड के एक तरफ़ का रास्ता खोल दिया हैं. सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त किए गए वार्ताकार के चर्चा करने के बाद यह निर्णय लिया गया. 

मिली जानकारी के अनुसार, प्रदर्शनकारियों ने गुट ने नौ नंबर सड़क के एक तरफ का रास्ता बाइक और कार वालों के लिए खोल दिया गया हैं. इस रास्ते के खुल जाने के वजह से दिल्ली से नोएडा जाने वाले लोगों को बहुत राहत मिलेगीं. 

दो गुटों में बाटें प्रदर्शनकारी 
प्रदर्शनकारीयों  द्वारा रास्ता खोलने के बाद दुसरे गुट ने तुरंत रास्ता बंद कर दिया जिसके बाद वह तनाव कि स्तिथि बन गई. सड़क खोलने के मुद्दे पर प्रदर्शनकारी दो गुटों में विभाजित होगए है. एक गुट जहाँ सड़क को खिलने का समर्थन कर रहा हैं. वही दूसरा इसका विरोध कर रहा हैं. रास्ता खोने के बाद 

दो महीने से था बंद
नागरिकता कानून के विरोध में शाहीन बाग़ में पिछले दो महीने से लोग प्रदर्शन कर रहे हैं. इसी प्रदर्शन के चलते नोएडा को दिल्ली से जोड़ने वाली रोड को प्रदर्शन कारियों ने बंद किया हुआ था. जिसके कारण आम जनता को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा था. 15 मिनट के रास्ते के लिए लोगों को दो घंटे लग रहे थे. वहीँ इसी मामले पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने प्रदर्शनकारियों से बात करने के लिए तीन वार्ताकार नियुक्य किया हुआ था. 

रास्ता खुलने पर कोई जानकारी नहीं
इसी मामले पर साउथ ईस्ट दिल्ली के डीसीपी ने कहा, " कुछ देर पहले प्रदर्शनकारियों के एक ग्रुप ने सड़क नंबर नौ पर लगे बैरीगेट को हटा दिया था. जिसके बाद कुछ लोगों ने फिर से उसे बंद कर दिया था. गेट खोलने पर जानकारी नहीं."