वायनाड में राहुल का चुनाव एक गलती, मोदी के सामने कोई भविष्य नहीं: रामचंद्र गुहा

केरल: शुक्रवार को केरल साहित्य महोत्सव के दूसरे दिन इतिहासकार रामचंद्र गुहा ने राजनीति पर एक ऐसा बयान दिया जिससे सभी चौक गए हैं। उन्होंने कहा कि ‘खानदान की पांचवी पीढ़ी’ के राहुल गांधी के

केरल: शुक्रवार को केरल साहित्य महोत्सव के दूसरे दिन इतिहासकार रामचंद्र गुहा ने राजनीति पर एक ऐसा बयान दिया जिससे सभी चौक गए हैं। उन्होंने कहा कि ‘खानदान की पांचवी पीढ़ी’ के राहुल गांधी के पास भारतीय राजनीति में ‘कठोर परिश्रमी और खुद मुकाम बनाने वाले’ नरेंद्र मोदी के सामने कोई मौका नहीं है। उन्होंने आगे कहा कि ‘‘मैं निजी तौर पर राहुल गांधी के खिलाफ नहीं हूं। वह सौम्य और सुसभ्य व्यक्ति हैं लेकिन युवा भारत एक खानदान की पांचवी पीढ़ी को नहीं चाहता। अगर आप मलयाली लोग साल 2024 में भी दोबारा राहुल गांधी को चुनने की गलती करेंगे तो शायद नरेंद्र मोदी को ही एक तरह से बढ़त देंगे।’’ 

इतिहासकार रामचंद्र गुहा ने कहा, “नरेंद्र मोदी स्व-निर्मित हैं। उन्होंने 15 वर्षों तक एक राज्य चलाया है, उनके पास प्रशासनिक अनुभव है, वह अविश्वसनीय रूप से कड़ी मेहनत कर रहे हैं और वे कभी भी छुट्टियां नहीं लेते हैं। मैं इसे पूरी गंभीरता के साथ कहता हूं।” इससे पहले हुए लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी केरल के वायनाड से तो जीत गए थे लेकिन उन्हें अपनी परंपरागत सीट अमेठी से हार का सामना करना पड़ा था। उन्हें हराने वाली भाजपा नेता स्मृति ईरानी थी। इस हार के बाद अंत में राहुल गांधी ने कांग्रेस अधक्ष्य के पद से इस्तीफा दे दिया था।