File Photo
File Photo

    -सीमा वर्मा  

    राजस्थान. भारत में दुष्कर्म (Indian Rape Case) के मामले दिन प्रतिदिन बढ़ते ही जा रहते है। देश में महिलाओं की सुरक्षा के लिए भले ही कितने भी कानून बन जायें लेकिन बलात्कार जैसी घटना अब तक थमी नहीं है, लेकिन हर दिन हर मिनट में कोई न कोई दुष्कर्म के मामले हमारे सामने आते ही रहते हैं। लोगो को न कानून (Law) का डर हैं न इंसानियत का भय है। देश में हर 3 मिनट में एक महिला के साथ दुष्कर्म होता हैं कई केस दर्ज होते है और कुछ केस समाज के दर से बाहर नहीं आते है। बच्ची को भी इन दरिंदो ने नहीं छोड़ा हैं। दुष्कर्म की एक घटना राजस्थान (Rajasthan) के झुंझुनूं गांव की है बच्ची के साथ दुष्कर्म उसके नाना ने किया है।  

    ढाई साल की बच्ची और उसकी मां अपनी नानी के घर आये हुए थे।  जब बच्ची की  मां  दिन में मजदूरी करने के लिए गई थी , बच्ची की  मां  का मामा जो बच्ची का रिश्ते में नाना लगता है घर में बच्ची को अकेला देख बच्ची के साथ दुष्कर्म किया और फरार हो गया। बच्ची की मां और परिजनों को पता चला तो सभी ने इस बात को दबा दिया। पुलिस जब पता चला की दुष्कर्म की घटना हुई है तो पुलिस ने बच्ची के माता पिता को कॉउन्सिलिंग के लिए भेज दिया और परिजनों पर मुकदम दर्ज किया हैं।  

    (नाना) मां के मामा ने किया नाती के साथ दुष्कर्म-
    मां के मामा ने देखा की बच्ची की मां घर नहीं है और सभी सदस्य अपने काम में इधर उधर लगे हुए हैं. तो क्यों न मौके का फायदा उठाया जाए. ऐसे में उस दरिंदे ने बच्ची के साथ बलात्कार किया और फरार हो गया। बच्ची को इलाज के लिए जयपुर के अस्पताल में भर्ती कराया गया था। पुलिस की टीम ने पहले सबूत जुटाया, जिससे उन्हें पता चला कि बच्ची के साथ दुष्कर्म हुआ है और जो उसके रिश्ते में नाना लगता है वो ही हैवान निकला. पुलिस ने नाना को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया, कोर्ट ने आरोपी को 24 मार्च तक पुलिस रिमांड में भेज दिया गया है। पीड़ित की बिगड़ती स्तिथि को  देख पुलिस ने नवलगढ़ अस्पताल में उसे भर्ती कराया।