Telangana: Helicopters help farmers trapped in heavy rains and floods

    जयपुर: राजस्थान में मई में तीसरे सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ के कारण पिछले 24 घंटों के दौरान कई इलाकों में हल्की से मध्यम दर्जे की बारिश दर्ज की गई। राज्य के अधिकतर हिस्सों में अधिकतम तापमान में दो से तीन डिग्री सेल्सियस की गिरावट होने से गर्मी से राहत मिली है। 

    जयपुर मौसम केन्द्र के निदेशक राधेश्याम शर्मा ने बताया कि आगामी 24 घंटे के दौरान उत्तरी राजस्थान में ज्यादातर जगहों पर हल्की से मध्यम वर्षा और शेखावटी क्षेत्र के अलवर, झुंझुनूं, सीकर, हनुमानगढ जिलों में तेज बारिश होने की संभावना हैं। राज्य में गरज के साथ बौछारें आगामी दो दिन तक होने की संभावना है। उन्होंने बताया कि बुधवार को बीकानेर में तेज हवा के साथ धूलभरी आंधी चली।

    वहीं सुबह से शाम तक धौलपुर में 8.5 मिलीमीटर, अलवर में चार मिलीमीटर, श्रीगंगानगर में दो मिलीमीटर, कोटा में एक मिलीमीटर, वनस्थली में 0.1 मिलीमीटर और चूरू में बूंदाबांदी दर्ज की गई। 

    विभाग के अनुसार पिछले 24 घंटों के दौरान जयपुर के चाकसू में 27 मिलीमीटर, बोली (सवाईमाधोपुर) 13 मिलीमीटर, आहोर (जालौर) में 12 मिलीमीटर, छत्तरगढ (बीकानेर) में 12 मिलीमीटर, सांगोद (कोटा) में 12 मिलीमीटर, तारानगर (चूरू) में 9 मिलीमीटर, सांभर (जयपुर में 8 मिलीमीटर और अन्य कई स्थानों पर पांच मिलीमीटर से लेकर एक मिलीमीटर तक बारिश दर्ज की गई। 

    विभाग के आंकडों के अनुसार बुधवार को 41.9 डिग्री सेल्सियस के अधिकतम तापमान के साथ पाली सबसे गर्म स्थान रहा। करौली में अधिकतम तापमान 41.4 डिग्री सेल्सियस, जैसलमेर में 40.9 डिग्री, सवाईमाधोपुर में 40.6 डिग्री, कोटा-भरतपुर में 40.5-40.5 डिग्री, बीकानेर-बाडमेर में 40.3-40.3 डिग्री और अन्य प्रमुख स्थानों में 39.8 डिग्री सेल्सियस से लेकर 35.4 डिग्री सेल्सियस के बीच दर्ज किया गया। सभी प्रमुख शहरों में न्यूनतम तापमान 22.2 डिग्री सेल्सियस से लेकर 22 डिग्री सेल्सियस के बीच दर्ज किया गया। (एजेंसी)