Indian High Commission issues 'open letter' for British MP regarding farmers movement
File

नई दिल्ली: कृषि कानूनों (Agriculture Bill) के विरोध में चल रहे किसान आंदोलन (Farmer Protest) आज सत्रहवे दिन में पहुँच गया है। जैसे-जैसे दिन बढ़ा रहे हैं, वैसे ही किसानों का आंदोलन और तीव्र होता जा रहा है। इसी क्रम में आज शनिवार को सरकार (Government) पर दवाब बढ़ाने के लिए पहले से घोषित दिल्ली-जयपुर हाईवे (Delhi-Jaipur Highway) को जाम करेंगे। जिसके लिए बड़ी संख्या में किसान पंजाब से दिल्ली के लिए निकल चुके हैं। 

नहीं रुकेंगी ट्रेन 

भारतीय किसान यूनियन प्रमुख बलबीर एस राजेवाल ने कहा, “12 दिसंबर को, हम दिल्ली-जयपुर सड़क को अवरुद्ध करेंगे। 14 तारीख को, हम डीसी कार्यालयों के सामने, बीजेपी नेताओं के घरों और ब्लॉक रिलेशन/अडानी टोल प्लाजा के सामने धरना देंगे। ट्रेनों को रोकने का कोई कार्यक्रम नहीं। यहां आने वाले किसानों की संख्या बढ़ रही है।”

हरियाणा में ही तो टोल फ्री 

गाजीपुर बॉर्डर से किसान नेता हरिंदर सिंह लखोवाल ने कहा, “हरियाणा भी हमारा भाई है उसे भी टोल प्लाज़ा फ्री करने चाहिए साथ ही पूरे देश में ये फ्री होने चाहिए। जब पूरे भारत के संगठन मिलकर फैसला लेंगे तब आने वाले समय में रेलें भी रोक ली जाएंगी।”

कानून व्यवस्था संभालने गुरुग्राम और फरीदाबाद में पुलिस तैनात 

किसानों को आंदोलन को देखते हुए हरियाणा सरकार ने दिल्ली सीमा से लगे हुए गुरुग्राम और फरीदाबाद बॉर्डर पर अतिरिक्त पुलिस बल तैनात कर दिए हैं इसी के साथ गुरुग्राम जिला प्रशासन ने 60 मजिस्ट्रेट्स को तैनात कर दिया है वहीं टोल प्लाजा को फ्री करने के ऐलान को देखते हुए 3500 से ज्यादा पुलिस वालों को भी टोल बूथों पर तैनात किया गया है