akhilesh-mayawati

    लखनऊ. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में एक बार फिर राजनीतिक उलटपलट अपने उफान पर है। दरअसल खबरों के अनुसार सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने BSP के सभी बागी विधायकों से मुलाकात कर आगामी विधानसभा चुनाव पर घंटों तक उनसे चर्चा भी की।

    SP में शामिल हो सकते हैं बागी विधायक :

    दरअसल सूत्रों की मानें तो, बागी विधायकों को समाजवादी पार्टी निरंतर सम्मान देने में कोई भी कसर नहीं छोड़ रही और बहुत जल्द SP सुप्रीमो अखिलेश यादव सभी बागी विधायकों को अपनी पार्टी में शामिल कराकर आगामी विधानसभा में चुनाव भी लडवा सकते हैं।

    बता दें कि इसके पहले अखिलेश यादव ने राज्यसभा चुनाव के लिए पहले BSP के खेमे में इसी प्रकार सेंध लगाने की कोशिश की थी। उस दौरान BSP के 7 विधायकों को पार्टी से तिरन्त निष्कासित किया गया था और अभी फिर हाल ही में BSP ने अपने तो वरिष्ठ विधायकों को पार्टी से निष्कासित किया है।

    क्या टूटने की कगार पर है मायावती की ‘बसपा’ :

    इधर राजनीतिक गलियारों में अटकलों का बाजार गर्म है कि अब BSP पूरी तरह टूटने की कगार पर है और साथ ही यह भी चर्चा है कि, सभी बागी विधायक बहुत जल्द मुलायम-अखिलेश का दामन थाम कर आगामी विधानसभा चुनाव, समाजवादी पार्टी के झंडे तले लड़ेंगे। वहीं, इस मुद्दे पर SP सुप्रीमो अखिलेश यादव का कहना है कि, इन सभी बागी विधायकों के हमरे साथ आने से समाजवादी पार्टी को बहुत बड़ा बल मिलेगा और सब के सहयोग से हम मिशन 2022 को पूरा करेंगे। तब जाकर समाजवादी पार्टी की एक नेह्तारीन सरकार बनेगी।

    कौन हुए थे पिछली बार BSP से निलंबित :

    •  असलम राइनी ( भिनगा-श्रावस्ती), 
    •  मुजतबा सिद्दीकी (प्रतापपुर-इलाहाबाद),
    •  हाकिम लाल बिंद (हांडिया-प्रयागराज), 
    •  हरगोविंद भार्गव (सिधौली-सीतापुर), 
    •  असलम अली चौधरी (ढोलाना-हापुड़),
    •  सुषमा पटेल (मुंगरा बादशाहपुर) 

    गौरतलब है कि फिलहाल सभी बागी विधायकों को BSP ने निष्कासित कर दिया है। इधर पार्टी से बनिष्कासित होने के बाद सभी विधायक अब अपनी अगली रणनीति बनाने में जुटे हैं और कई बार SP सुप्रीमो अखिलेश यादव से इस बाबत मुलाकात भी कर चुके हैं। जिसे लेकर सियासत का बाजार गर्म है।