रिलायंस की बड़ी पहल : कर्मचारी की कोरोना से मौत होने पर परिवार को 5 साल तक देगी सैलरी और अन्य सुविधा

    कोरोना संकट काल में Reliance Industries (RIL) ने अपने कर्मचारियों की मदद के लिए बड़ा कदम उठाया है। महामारी के बीच रिलायंस इंडस्ट्री लिमिटेड ने कोरोना संक्रमण के चलते जान गंवाने वाले अपने कर्मिचारियो (Employees) के परिवार को अगले पांच सालों तक हर महीने सैलरी देने की घोषणा की है। साथ ही कंपनी पीड़ित परिवार को 10 लाख रुपये तक एकमुश्त आर्थिक मदद करेगी।  

    मृत कर्मियों के बच्चों की शिक्षा का खर्च उठाएगी RIL

    RIL कंपनी कोरोना (Coronavirus) से मरने वाले कर्मचारियों के बच्चों के शिक्षा के लिए भारत में किसी भी संस्थान में शिक्षण शुल्क, छात्रावास आवास और स्नातक की डिग्री तक पुस्तक शुल्क का 100 प्रतिशत भुगतान प्रदान करेगी। साथ ही बच्चे के ग्रेजुएट होने तक पति या पत्नी, माता-पिता और बच्चों के लिए अस्पताल में भर्ती होने के लिए प्रीमियम का 100 प्रतिशत भुगतान भी देगी। 

    कर्मचारियों को दी जाएगी कोविड लीव 

    जो कर्मचारी कोरोना से संक्रमित हैं या उनके परिवार का कोई सदस्य कोविड की चपेट में है तो वे शारीरिक और मानसिक रूप से पूरी तर ठीक होने तक कंपनी कोविड-19 लीव देगी। खासकर यह छुट्टियां यह सुनिश्चित करने के लिए है कि रिलायंस के सभी कर्मचारी पूरी तरह से ठीक हो जाए या अपने कोविड-19 पॉजिटिव परिवार के सदस्यों की देखभाल ठीक से कर सके। 

    ऑफ रोल कर्मचारियों के परिवार को 10 लाख

    रिलायंस फाउंडेशन की अध्यक्ष नीता अंबानी (Nita Ambani) ने 2 जून को जानकारी दी थी कि कंपनी सभी ऑफ-रोल कर्मचारियों के शोक संतप्त परिवार के सदस्यों को 10 लाख रुपये का भुगतान करेगी, जिन्होंने कोविड ​​​​-19 के चलते अपनी जान गवाई है।