Separatist leader Ashraf Sehrai dies in Jammu and Kashmir
Image:@GreaterKashmir/ Twitter

    जम्मू: जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) में जन सुरक्षा कानून (पीएसए) के तहत पिछले वर्ष जुलाई में हिरासत में लिए गए अलगाववादी नेता (Separatist Leader) मोहम्मद अशरफ सहराई (Ashraf Sehrai) का बुधवार को एक अस्पताल (Hospital) में निधन (Death) हो गया। अधिकारियों ने इस बात की जानकारी दी।

    वह 77 वर्ष के थे। सहराई हुर्रियत कॉन्फ्रेंस के कट्टरपंथी धड़े के नेता सैयद अली शाह गिलानी के करीबी माने जाते थे। अधिकारियों ने बताया कि मंगलवार की शाम को सहराई की तबीयत अचानक बिगड़ जाने के बाद उन्हें सरकारी मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया।

    गिलानी के स्थान पर तहरीक-ए-हुर्रियत का अध्यक्ष बनने वाले सहराई की कोविड-19 रैपिड एंटीजन जांच की गयी जिसमें रिपोर्ट निगेटिव आई थी। उनकी आरटीपीसीआर जांच की रिपोर्ट का इंतजार है। अधिकारियों के मुताबिक, सहराई को सांस लेने में परेशानी हो रही थी और उनका ऑक्सीजन स्तर भी कम था। उन्हें कोविड-19 जैसे लक्षण थे।