Representational Image
Representational Image

    अहमदाबाद. कोविड-19 महामारी की भयावह लहर के खिलाफ जारी लड़ाई में दुनिया के कई देश भारत की मदद कर रहे हैं जिसके तहत संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) से 20 मीट्रिक टन ऑक्सीजन लेकर सात टैंकर मंगलवार को गुजरात के मुंद्रा बंदरगाह पर पहुंचे। विदेश मंत्रालय ने ट्वीट कर यह जानकारी दी। इस ऑक्सीजन से देश में कोविड-19 के मरीजों के इलाज में मदद मिलेगी। 

    गौरतलब है कि कोरोना वायरस के नये मामलों में अचानक हुई वृद्धि के बीच मेडिकल ऑक्सीजन की मांग काफी बढ़ गई है। विदेश मंत्रालय ने ट्विटर पर कहा ‘‘ यूएई के साथ हमारी बढ़ती हुई रणनीतिक साझेदारी के तहत 20 मीट्रिक टन तरल चिकित्सीय ऑक्सीजन लेकर सात आईएसओ टैंकर यहां मुंद्रा बंदरगाह पर पहुंचे। यूएई की इस मदद का हम सम्मान करते हैं। 

    इससे देश में ऑक्सीजन की आपूर्ति बढ़ाने में मदद मिलेगी।”आईएसओ टैंकरों का निर्माण अंतरराष्ट्रीय मानकीकरण संगठन की ओर से तय किए गए मानकों के अनुरूप ही किया जाता है। आईएसओ टैंकरों का इस्तेमाल भारी मात्रा में तरल पदार्थ को एक स्थान से दूसरे स्थान पर ले जाने के लिए किया जाता है। इसके निर्माण में प्रमुख रूप से स्टेनलेस स्टील का उपयोग किया जाता है। (एजेंसी)