JAGANNATH-TEMPLE
File Photo

    पुरी: श्री जगन्नाथ मंदिर प्रशासन ( Shree Jagannath Temple Administration ) (एसजेटीए) ने ओडिशा सरकार (Odisha Government) से अपने कर्मचारियों को कोविड​​-19 योद्धा (Declared COVID-19 Warriors) घोषित करने का आग्रह किया है क्योंकि वे खतरे का सामना करते हुए मंदिर के अंदर और बाहर अपने कर्तव्यों का पालन कर रहे हैं। एसजेटीए के मुख्य प्रशासक कृष्ण कुमार ने स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव पी के महापात्र को लिखे पत्र में कहा कि मंदिर के कर्मचारी कोविड-19 योद्धा का दर्जा पाने के हकदार हैं। उन्होंने कहा, ‘‘मैं आपके ध्यान में लाना चाहता हूं कि एसजेटीए, पुरी के कर्मचारी कोविड महामारी के दौरान अपने विभिन्न कर्तव्यों का पूरी निष्ठा के साथ पालन कर रहे हैं।

    इसमें नीलाचल भक्त निवास में संस्थागत पृथकवास में कोविड संक्रमित व्यक्तियों की देखभाल करना और चिकित्सा टीमों की सहायता करना शामिल है।” कुमार ने पत्र में कहा है, ‘‘इस संदर्भ में, मैं अनुरोध करता हूं कि श्री जगन्नाथ मंदिर प्रशासन, पुरी के ऐसे सभी कर्मचारियों और अधिकारियों को राज्य सरकार द्वारा समय-समय पर तय किए गए लाभ देने के वास्ते कोविड योद्धा घोषित किया जाए।”

    उन्होंने एसजेटीए की जगन्नाथ मंदिर पुलिस (जेटीपी) के उन दो कर्मचारियों पृथ्वीमन्यु दास (58) और प्रमोद कुमार दास (59) के नामों का उल्लेख किया, जिनकी अप्रैल में कोविड-19 के कारण मौत हो गई थी। उन्होंने अतिरिक्त मुख्य सचिव से नियमों के अनुसार उनके परिवार के सदस्यों को वित्तीय सहायता देने का भी अनुरोध किया।