Strict action against Dawood, 7 prime properties to be auctioned next month

मुंबई: भारत (India) का मोस्ट वांटेड (Most Wanted) अंडरवर्ल्ड (Underworld) डॉन दाऊद इब्राहिम (Dawood Ibrahim) पर सरकार जल्द कड़ी करवाई करनेवाली है। एक रिपोर्ट के मुताबिक, दाऊद की महाराष्ट्र में मौजूद करीब 7 प्राइम प्रॉपर्टी की उसकी प्रॉपर्टी की नवंबर में नीलामी की जाएगी। यह नीलामी SAFEMA के तहत 10 नवंबर को की जाएगी। इस नीलामी को कोरोना के चलते डिजिटली किया जाएगा और बोलीं वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से होगी। इससे पहले दाऊद की दक्षिण मुंबई की कई प्रॉपर्टी की नीलामी की जा चुकी है। 

यह दाऊद की प्रॉपर्टी की अब तक की सबसे बड़ी नीलामी होगी

एजेंसियां इससे पहले भी दाऊद की कई प्रॉपर्टी की नीलामी कर चुकीं हैं लेकिन यह नीलामी अब तक की दाऊद की सबसे बड़ी प्रॉपर्टी की नीलामी बताई जा रही है। जिन 7 प्रॉपर्टी की नीलामी की जा रही है उनमें से 6 दाऊद के गांव रत्नागिरी जिले के मुंबाके में स्थित हैं। इससे पहले SAFEMA ने मुंबई के नागपाड़ा स्थित दाऊद के एक फ्लैट की नीलामी की थी जिसे दाऊद की बहन दिवंगत हसीना पारकर का बताया जा रहा था। 

जिन प्रॉपर्टी की नीलामी होगी, उनमें ज़्यादातर ज़मीन

दाऊद की जिन प्रॉपर्टी की नीलामी होने जा रही है उनमें ज़्यादातर ज़मीन है। प्रॉपर्टी नीलामी को लेकर प्रोसीजर के तहत एजेंसी ने ‘ओपनिंग बीड’ भी तय कर दिया है और साथ ही प्रॉपर्टी के डिटेल्स भी जारी कर दिए हैं जिससे ऑक्शन में शामिल होनेवाले लोगों को प्रॉपर्टी की जानकारी मिल सके। बोली लगाने वालों को इन सभी प्रॉपर्टी को 2 नवंबर, 2020 तक देखने-परखने का मौका दिया गया है।   

इन प्रॉपर्टी का होगा ऑक्शन

– 27 गुंठा जमीन-रिजर्व कीमत 2,05,800 रुपये

– 29.30 गुंठा जमीन-रिजर्व कीमत 2,23,300 रुपय

– 24.90 गुंठा जमीन-रिजर्व कीमत 1,89,800 रुपय

– 20 गुंठा जमीन- रिजर्व कीमत 1,52,500 रुपये

– 18 गुंठा जमीन-रिजर्व कीमत 1,38,000 रुपये

– 30 गुंठा जमीन के साथ मकान- रिजर्व कीमत 6,14,8100 रुपये 

दाऊद के सहयोगी इक़बाल मिर्ची की ईडी ने दुबई में प्रॉपर्टी सील की थी

ईडी (ED) ने पिछले महीने एक धनशोधन मामले में कुख्यात अपराधी इकबाल मिर्ची (Iqbal Mirchi) के परिवार की दुबई में स्थित 203 करोड़ रुपये से अधिक की संपत्ति कुर्क की थी। ईडी ने कहा था कि कुर्क सम्पत्ति में 15 वाणिज्यिक एवं आवासीय सम्पत्ति शामिल हैं जो मिर्ची के “परिवार के सदस्यों” की है। इनमें ‘मिडवेस्ट होटल अपार्टमेंट’ नाम का एक होटल भी शामिल है। ईडी ने एक बयान में कहा कि इनकी कीमत 203.27 करोड़ रुपये आंकी गई है और इसे अस्थायी तौर पर धनशोधन रोकथाम कानून (पीएमएलए) के तहत कुर्क किया गया है। अधिकारियों ने कहा कि ये सम्पत्तियां दुबई स्थित उस कंपनी द्वारा मिर्ची परिवार को हस्तांतरित की गई थीं जिसका स्वामित्व वधावन बंधुओं-कपिल वधावन और धीरज वधावन- के पास था।