नक्सल अंकल प्लीज मेरे पापा को छोड़ दो’, अगवा CRPF जवान की 5 साल की बेटी ने लगाई नक्सलियों से गुहार

    Naxalite Attack. छत्तीसगढ़ के बीजापुर में हुए नक्सली (Bijapur Naxal Attack) हमले में शहीदों के लिए हर किसी की आंखें नम है। इस नक्सली हमले में अब तक 22 जवानों के शव बरामद हुए हैं और एक जवान अब भी लापता है। इनमें से 21 जवानों के पार्थिव शरीर मिल गए थे, लेकिन सीआरपीएफ कोबरा बटालियन के एक जवान राकेश्वर सिंह मनहास मुठभेड़ (CRPF Jawan Rakeshwar Singh) के बाद से ही लापता थे। नक्सलियों ने सोमवार को स्थानीय पत्रकारों को सूचना दी कि लापता जवान को उन्होंने अगवा कर लिया है। इसी बीच सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें एक पांच साल की बच्ची अपने पिता के लिए नक्सलियों से गुहार लगाती नजर आ रही है।  

    जवान राकेश्वर सिंह मन्हास के अपहरण की जानकारी मिलने पर उनका पूरा परिवार सदमे हैं। उनके सकुशल घर लौट आने के लिए हर कोई दुआ कर रहा हैं। राकेश्वर की पत्नी मीनू चिब ने बताया कि शनिवार 3 मार्च को अंतिम बार पति से बात हुई थी। तब उन्होंने कहा था कि वह एक ऑपरेशन पर जा रहे हैं और अपने साथ खाना पैक कर लिया है। ऑपरेशन से लौटकर फोन करेंगे। लेकिन पिछले तीन दिन से उनसे बात नहीं हुई। रिंग जाती है, लेकिन कोई फोन नहीं उठता। मीनू ने नम आंखों से आगे कहा कि, उनके पति ने देश की 10 साल तक सेवा की और अब सरकार की बारी है कि वह उन्हें सुरक्षित वापस लाए। 

    इस बीच राकेश्वर सिंह की 5 साल की बेटी का वीडियो आईपीएस दीपांशु काबरा ने अपने ट्विटर पेज पर शेयर किया है। उन्होंने लिखा है कि बंधक बनाए गए जवान की बेटी की आवाज को सुनकर मन भावुक हो गया है। 

    वायरल वीडियो में देखा (Rakeshwar singh Daughter Video) जा सकता है कि, अगवा जवान की  पांच साल की बेटी श्रग्वी अपने पिता को रिहा करने की गुहार लगा रही है। उसने कहा, ‘पापा की परी पापा को बहुत मिस कर रही है। मैं अपने पापा से बहुत प्यार करती हूं। प्लीज नक्सल अंकल, मेरे पापा को घर भेज दो।’